• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • Patna - सूक्ष्म सिंचाई योजना में 25% अलग से किसानों को अनुदान देगी राज्य सरकार
--Advertisement--

सूक्ष्म सिंचाई योजना में 25% अलग से किसानों को अनुदान देगी राज्य सरकार

सूक्ष्म सिंचाई योजना के जरिए सरकार ने बिहार के किसानों की आमदनी बढ़ाने की खास पहल की है। इस योजना पर सरकारी अनुदान 75...

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2018, 04:30 AM IST
Patna - सूक्ष्म सिंचाई योजना में 25% अलग से किसानों को अनुदान देगी राज्य सरकार
सूक्ष्म सिंचाई योजना के जरिए सरकार ने बिहार के किसानों की आमदनी बढ़ाने की खास पहल की है। इस योजना पर सरकारी अनुदान 75 प्रतिशत तक है। यानी, किसान को सिर्फ 25 फीसदी राशि देनी है। इस योजना के लिए केंद्र सरकार पहले से 50 प्रतिशत अनुदान दे रही है। बिहार सरकार ने अपनी तरफ से 25 प्रतिशत अनुदान राशि की व्यवस्था की है। यानी, इसके लिए अब किसानों को कुल 75 प्रतिशत अनुदान मिलेगा।

इसके फायदे का अंदाज इसी से किया जा सकता है कि पारंपरिक सिंचाई व्यवस्था की तुलना में इसमें पानी की खपत 60 फीसदी कम होती है और उत्पादन में 40 से 50 फीसदी तक की वृद्धि होती है। सूक्ष्म सिंचाई से खाद की खपत में भी 25 से 30 प्रतिशत तक की कमी होती है। खेती की कम लागत और उच्च कोटि की फसल से जाहिर तौर पर किसानों की आय बढ़ेगी। उन्हें सामान्य की तुलना में अधिक मुनाफा होगा।

योजना से जुड़ने के लिए किया जा रहा प्रोत्साहित

फिलहाल बिहार में सूक्ष्म सिंचाई योजना का विस्तार बहुत कम है। कुल सिंचाई के सिर्फ 0.5 प्रतिशत क्षेत्र में इस योजना/प्रणाली से खेती होती है। सरकार इस प्रणाली के तहत खेती को बढ़ावा देने के लिए खास प्रयास कर रही है। तीसरे कृषि रोडमैप में इस विधि से सिंचाई का लक्ष्य कम से कम 2 प्रतिशत तक करने की बात है। इससे अधिकाधिक किसानों को जोड़ने की कोशिश है।

ऐसे काम करती है प्रणाली

पौधे की जड़ में विशेष रूप से बनी पाइप के जरिए थोड़े-थोड़े समय पर पानी दिया जाता है। इसमें ड्रीप सिंचाई, स्प्रिंकलर तथा रेनगन सिंचाई पद्धति का प्रयोग होता है। इससे कम पानी में ज्यादा क्षेत्रफल तक खेत में पानी पहुंच जाता है।

25-30

प्रतिशत तक खाद की खपत में भी आती है कमी

50%

तक केंद्र पहले से योजना के तहत दे रहा है अनुदान

पूरी प्रक्रिया लगते हैं सिर्फ 25 दिन

बिहार सरकार ने योजना के कार्यान्वयन के लिए एक्सिस बैंक से करार किया है। इस प्रणाली को लगाने वाली कंपनी को तय समय में किसान के खेत में सूक्ष्म सिंचाई यंत्र लगाना है। 7 दिन में कृषि विभाग के अधिकारी इसका सत्यापन करेंगे। संपूर्ण प्रक्रिया 25 दिनों में पूरी कर लेनी होती है।

सभी किसानों को मिलेगा लाभ

इस योजना का लाभ सभी श्रेणी के किसानों को मिलेगा। इसके लिए किसानों को डीबीटी पोर्टल पर पंजीकरण कराना जरूरी है। सत्यापन की औपचारिकता पूरी होने के बाद किसानों के खाते में सब्सिडी की राशि आ जाएगी।

X
Patna - सूक्ष्म सिंचाई योजना में 25% अलग से किसानों को अनुदान देगी राज्य सरकार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..