पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Patna News Sumit Kumar Started The Startup At The Age Of 17

17 साल की उम्र में स्टार्टअप शुरू किया सुमित कुमार ने

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
डर के आगे जीत है। 17 साल की उम्र से स्टार्टअप चला रहे सुमित कुमार यह कहते हैं। अब उनकी उम्र 25 साल है। दिल्ली में रहनेवाले सुमित पिछले दिनों पटना आए थे। उनसे सिटी भास्कर ने बात की। वे बताते हैं कि उनकी फैमिली में किसी ने बिजनेस नहीं किया। आपने आईएएस की तैयारी नहीं की? इस सवाल पर वे कहते हैं कि एक साल सब कुछ से कटऑफ होकर मैंने पढ़ाई की, लेकिन मन नहीं रमा। 20-25 साल पहले आईएएस जैसी नौकरियां जरूरत रही होंगी, तब इतने सारे अवसर नहीं थे। यूपीएससी अभी भी ब्रिटिश पैटर्न टाइप चल रहा है। अब टेक्नोलॉजी काफी आगे निकल गई है। इन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी के शहीद सुखदेव कॉलेज ऑफ बिजनेस स्टडीज से ग्रेजुएशन किया। इसके बाद टाटा इंस्टीच्यूट ऑफ सोसल साइंसेज मुंबई से ह्यूमन रिसोर्स की पढ़ाई की। कोई जॉब नहीं किया, अपनी कंपनी बनाई। सुमित कुमार, हेड्स-अप कॉरपोरेशन, आल्ट स्पेश, निशांत प्रकाश लॉ क्लासेज प्राइवेट लिमिटेड जैसी कई कंपनियों के संचालक हैं। उनकी कंपनी मिनट भर के अंदर आपके मनपसंद जगह पर ऑफिस के लिए आपको स्पेश दिला देने का दावा करती है। वे कंपनियों को कई तरह का सपोर्ट भी करते हैं। निशांत प्रकाश लॉ क्लासेज प्रा. लि. भी उन्होंने बनाया। किसी ऑर्गेनाइजेशन में इंम्पलाई का परफॉर्मेंस ठीक नहीं है तो उसे ठीक करते हैं। उनकी टीम में 35 यूथ हैं। वे बताते हैं कि हमारे यहां कोई इम्प्लाई 50 हजार से कम नहीं पाते हैं। डिजाइन करना, कम्युनिकेशन, एप बनाना, वेबसाइट बनाने जैसे काम भी कंपनी करती हैं। अपने साथियों के साथ उन्होंने भारत के सबसे बड़े स्कैन करने योग्य क्यूआर कोड बनाया जिसे 2012 में लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स ने मान्यता दी थी।

वे बताते हैं कि जब कॉलेज में पढ़ते थे तभी आठ-दस ऑर्गेनाइजेशन में काम कर चुके थे इंटर्नशिप के रूप में। वहां वे जान गए थे कि स्टार्टअप कैसे चलता है। जब फर्स्ट ईयर में ही पहला स्टार्टअप शुरू किया था। एडवाइजर, नाम से यह स्टार्टअप अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर शुरू किया था।

तब डर नहीं लगा था? इस सवाल पर वे कहते हैं कि डर के आगे जीत है। डर बहुत ज्यादा लगा था तब। अब हमारी यंग टीम इसी को मानकर चल रही है कि डर के आगे जीत है। हम 20-22 साल के बच्चों को डेवलप करते हैं। हम इनहाउस डेवलपमेंट पर जोर देते हैं। हमारे यहां सीनियर, जूनियर को सिखाते हैं। इसका तीन लेवल बन चुका है। जिन बच्चों में स्पार्क हो उसे डेवलप करना आसान होता है। हमारे यहां वूमेन को मेंसट्रुअल लीव की भी व्यवस्था है। एक भी इंप्लाई ने अब तक हमारे यहां रिजाइन नहीं किया है।

सबसे बड़े स्कैन करने योग्य क्यूआर कोड बनाया जिसे 2012 में लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स ने मान्यता दी थी

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें