बिहार / 12 से 30 लाख टन धान खरीद का बढ़ा लक्ष्य

Dainik Bhaskar

Dec 12, 2018, 07:42 PM IST


प्रेम कुमार: कृषि मंत्री प्रेम कुमार: कृषि मंत्री
X
प्रेम कुमार: कृषि मंत्रीप्रेम कुमार: कृषि मंत्री
  • comment

  • खाद्य व उपभोक्ता संरक्षण विभाग ने सभी जिलों को भेजा पत्र
  • पिछले साल साढ़े ग्यारह लाख टन धान की हुई खरीद

पटना. राज्य में 2018-19 में धान खरीद का लक्ष्य 12 लाख टन से बढ़ा कर 30 लाख टन कर दिया है। पहले केंद्र ने बिहार को 12 लाख टन धान खरीद की अनुमति दी थी। धान खरीद का लक्ष्य बढ़ाने के राज्य सरकार के अनुरोध के बाद केंद्र ने अनुमति दी है। केंद्र से अनुमति मिलने पर खाद्य व उपभोक्ता संरक्षण विभाग के अपर सचिव चंद्रशेखर ने सभी प्रमंडलीय आयुक्त और डीएम को बुधवार को पत्र भेजा है। पत्र के साथ ही लक्ष्य की भी सूची दी गई है।

 

पिछले खरीफ मौसम 2017-18 में राज्य में लगभग साढ़े ग्यारह लाख टन धान की ही खरीद हुई थी। इस कारण केंद्र सरकार ने इस वर्ष 12 लाख टन धान खरीद की अनुमति दी थी। पिछले वर्ष 20 लाख टन धान खरीद का लक्ष्य केंद्र ने दिया था। पैक्स और व्यापार मंडल के माध्यम से धान खरीद के लिए प्रति क्विंटल कीमत पिछले वर्ष की तुलना में 200 रुपए अधिक मिलेंगे। इस वर्ष किसान को प्रति क्विंटल धान की कीमत 1750 रुपए दिए जाएंगे। इसके पहले विभाग ने 22 नवंबर को सभी जिलों को 12 लाख टन धान खरीद का लक्ष्य दिया था।

 

सरकार प्रत्येक सामान्य किसान से 200 क्विंटल और बटइार्दार किसान से 75 क्विंटल तक अधिकतम धान खरीद की सीमा तय की है। धान खरीद में तेजी लाने के लिए पैक्स और सहकारी बैंक को भी सरकार प्रोत्साहित करेगी। सरकार ने इस वर्ष निर्णय लिया है कि पैक्स और व्यापार मंडल को धान खरीद पर 10 रुपए प्रति क्विंटल की दर से राज्य सरकार प्रोत्साहन राशि देगी, जबकि जिला केंद्रीय सहकारी बैंक को 5 रुपए और राज्य सहकारी बैंक को प्रति क्विंटल 50 पैसे की दर से भुगतान किया जाएगा। केंद्र सरकार से अभी धान खरीद पर पैक्स को प्रति क्विंटल लगभग 37 रुपए मिलेंगे।


इस वर्ष 1750 रुपए प्रति क्विंटल मिलेगी कीमत
इस वर्ष धान बेचने वाले किसान को प्रति क्विटल 1750 रुपए कीमत मिलेगी। पिछले वर्ष प्रति क्विंटल 1550 रुपए प्रति क्विंटल कीमत मिली थी। राज्य सरकार धान खरीद के लिए अतिरिक्त राशि सहकारी बैंकों के माध्यम से उपलब्ध कराती है। पैक्स को राज्य सहकारी बैँक से कैश क्रेडिट के रूप में धान खरीद के लिए 5 से 15 लाख रुपए तक की राशि उपलब्ध कराई जाती है।


धान बेचने वाले किसानों का निबंधन जरूरी
निबंधित किसानों से ही धान खरीद होनी है। विभागीय बेवसाइट (gov of bihr में सहकारिता विभाग का साइट) या जिला पदाधिकारी के वेबसाइट के माध्यम से किसान किसान निबंधन करा सकते हैं। सामान्य किसान को आधार या फोटो युक्त पहचान कार्ड, बैंक लेखा विवरणी एवं जमीन का विवरणी देना होगा। बटाईदार किसान को स्व घोषणा पत्र में बताना होगा कि कितनी जमीन पर खेती की और कितना उत्पादन हुआ। इसके साथ ही फोटोयुक्त पहचान पत्र देना होगा। अपने एंड्रायड फोन पर भी निबंधन करा सकते हैं।

 

विकेद्रीकृत तरीके से धान खरीद
खाद्य सुरक्षा योजना के लिए पीडीएस दुकानों पर चावल उपलब्ध कराने के लिए एफसीआई के लिए पैक्स के माध्यम से किसानों से धान खरीद होती है। पिछले वर्ष 30 लाख टन धान खरीद का लक्ष्य था। इस वर्ष सरकार का लक्ष्य है 30 लाख टन से भी अधिक धान खरीद हो।


जिलावार धान खरीद लक्ष्य (टन में)

 

  • बांका 86000
  • भागलपुर 45000
  • दरभंगा 75000
  • मधुबनी 122000
  • समस्तीपुर 67000
  • मधेपुरा 35000
  • सहरसा 41000
  • सुपौल 66000
  • अरवल 25000
  • औरंगाबाद 151000
  • गया 107000
  • जहानाबाद 60000
  • नवादा 85000
  • बेगूसराय 20000
  • जमुई 41000
  • खगड़िया 55000
  • लखीसराय 26000
  • मुंगेर 26000
  • शेखपुरा 22000
  • भोजपुर 111000
  • बक्सर 87000
  • कैमूर 150000
  • नालंदा 150000
  • पटना 105000
  • रोहतास 210000
  • अररिया 45000
  • कटिहार 62000
  • किशनगंज 35000
  • पूर्णिया 65000
  • गोपालगंज 76000
  • सारण 75000
  • सीवान 86000
  • बेतिया 160000
  • मोतिहारी 155000
  • मुजफ्फरपुर 132000
  • शिवहर 23000
  • सीतामढ़ी 88000
  • वैशाली 30000

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन