शिक्षक डालेंगे ई-कंटेंट, एप और वेबसाइट पर पढ़ेंगे छात्र

Patna News - केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने विद्यादान पहल की शुरुआत की है। स्कूलों की ओर से तैयार कंटेंट को सीबीएसई ने...

Sep 14, 2019, 09:11 AM IST
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने विद्यादान पहल की शुरुआत की है। स्कूलों की ओर से तैयार कंटेंट को सीबीएसई ने पब्लिक डोमेन में डाला है ताकि देशभर के स्टूडेंट्स इसका लाभ ले सकें।

सीबीएसई के अनुसार विद्यादान शिक्षकों से सामग्री प्राप्त करने पर आधारित कार्यक्रम है और इसका उद्देश्य मेट्रो शहरों से लेकर छोटे गांवों तक अच्छी गुणवत्ता वाले ई-कंटेंट को प्रदान करना है, जिसका उपयोग छात्रों द्वारा कभी भी, कहीं भी और बिना किसी कीमत के किया जा सके। शिक्षक अपने ज्ञान और बेस्ट प्रैक्टिस को ई-कंटेंट के रूप में देशभर से साझा कर सकते हैं। स्कूली शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए यह पहल सीबीएसई की ओर से की गई है। शुरुआत में क्लास 6 से लेकर 10वीं तक के बच्चों के लिए ई-कंटेंट उपलब्ध कराया गया है। अभी अंग्रेजी, हिंदी, मैथ्स, साइंस तथा सोशल साइंस में ई-कंटेंट उपलब्ध है। एनसीईआरटी सिलेबस के आधार पर यह कंटेंट तैयार किया गया है। सभी चैप्टर में लर्निंग आउटकम्स, फोकस स्पॉट, लेसन प्लान, एक्सप्लेनेशन कंटेंट, क्वेश्चन बैंक, एनसीईआरटी टेक्स्टबुक के पीडीएफ, मार्किंग स्कीम, एक्सपेरिमेंटल कंटेंट तथा क्यूरोसिटी क्वेश्चन हैं। सीबीएसई ने इसके लिए दीक्षा एप विकसित किया है जिसे प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। इसके अलावा दीक्षा वेबसाइट से भी कंटेंट का लाभ उठाया जा सकता है। सीबीएसई ने स्कूलों से कहा है कि वे विद्यादान आंदोलन में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें। ई-प्लेटफॉर्म के लिए कंटेंट तैयार कर वे डोनेट कर सकते हैं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना