प्रतिक्रियाएं / तेजप्रताप ने कहा- बजट से अच्छी सत्यनारायण भगवान की कथा होती है, कम से कम पुण्य की प्राप्ति तो होती है

राजद नेता तेजप्रताप यादव। राजद नेता तेजप्रताप यादव।
X
राजद नेता तेजप्रताप यादव।राजद नेता तेजप्रताप यादव।

  • रालोसपा के उपेंद्र कुशवाहा ने कहा- बजट ने बिहार के लोगों को मायूस किया, बजट युवा और जनविरोधी है
  • भाजपा नेता नंदकिशोर ने कहा- बजट इशारा करता है कि सरकार 'सबका साथ सबका विकास' के संकल्प के साथ चल रही

दैनिक भास्कर

Feb 01, 2020, 06:21 PM IST

पटना. आम बजट-2020 पर राज्य के नेताओं ने प्रतिक्रिया दी। राजद नेता तेजस्वी ने बजट को दिशाहीन बताया। उन्होंने कहा कि बजट में युवाओं को नौकरी देने का कोई जिक्र नहीं किया गया। वहीं, तेजस्वी यादव ने बजट भाषण पर तंज कसते हुए कहा कि इस बजट से अच्छी तो सत्यनारायण भगवान की कथा होती है। कम से कम मन को संतुष्टि और पुण्य की प्राप्ति होती है। नीतीश सरकार में मंत्री और भाजपा नेता नंदकिशोर यादव ने बजट को देशवासियों की उम्मीदों पर खरा उतरने वाला बताया है।

तेजप्रताप का ट्वीट-

तेजस्वी ने कहा- दिशाहीन, अर्थव्यवस्था में आएगी मंदी

राजद नेता तेजस्वी यादव ने बजट को दिशाहीन बताया है। तेजस्वी ने ट्वीट करके कहा- बजट में स्पेशल पैकेज के संबंध में एक भी शब्द नहीं था। बिहार के लिए न कोई पहल है और न प्रोजेक्ट। कहा जाता है कि बिहार में डबल इंजन की सरकार है। इसके चलते हम लोग उम्मीद कर रहे थे कि बिहार को बहुत कुछ मिलेगा। बजट में यह दिखा कि मोदी सरकार बिहार के साथ कितना अधिक भेदभावपूर्ण इरादे से काम कर रही है।

उन्होंने यह भी कहा कि बजट से साबित होता है कि सरकार को पता नहीं है कि रोजगार सृजन, राजस्व, धन सृजन और उसका वितरण कैसे करें। बजट से आम आदमी की खर्च करने की क्षमता में कमी आएगी और असमानता बढ़ेगी। सब्सिडी को भी कम कर दिया गया है। इससे आम आदमी परेशान है।

उम्मीदों पर खरा उतरने वाला बजट: नंदकिशोर
भाजपा नेता और बिहार सरकार में मंत्री नंदकिशोर यादव ने बजट को देशवासियों की उम्मीदों पर खरा उतरने वाला बताया है। उन्होंने कहा कि आयकर में रियायत से मध्यमवर्गीय लोगों को राहत मिलेगी। बजट में शिक्षा के लिए 99300 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। पिछड़ा वर्ग के लिए 85 हजार करोड़ और आदिवासी कल्याण के लिए 53 हजार करोड़ रुपए की व्यवस्था की गई है। ये सभी व्यवस्थाएं इस बात का इशारा करती हैं कि नरेंद्र मोदी की सरकार 'सबका साथ सबका विकास' के संकल्प के साथ चल रही है।

बिहार को बजट में नहीं मिला कुछ खास: अब्दुल बारी सिद्दीकी 
राजद नेता और बिहार के पूर्व वित्त मंत्री अब्दुल बारी सिद्दीकी ने बजट को निराशाजनक बताया है। उन्होंने कहा कि बजट में बिहार को कुछ खास नहीं मिला। सिद्दीकी ने कहा कि बिहार पिछड़ा राज्य है। बिहार को आगे लाने के लिए स्पेशल पैकेज और विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की जरूरत है। उन्होंने कहा- इसके अभाव में बिहार आज जहां है वहां से थोड़ा आगे बढ़ेगा, लेकिन जो राज्य आगे हैं वे और आगे बढ़ जाएंगे।

बजट युवा और जनविरोधी है: उपेंद्र

रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि बजट ने बिहार के लोगों को मायूस किया है। बजट युवा और जनविरोधी है। रोजगार की इससे कोई पुख्ता प्रावधान नहीं किया गया। सरकारी संस्थाओं और सेक्टर को निजी हाथों में देने की तैयारी है। बिहार को न विशेष राज्य का दर्जा मिला न ही विशेष पैकेज। बिहार में डबल इंजन की सरकार विकास की पटरी पर दौड़ने के बजाय डिरेल हो गई। केंद्र सरकार ने बिहार के साथ सौतेला व्यवहार किया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना