• Home
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • The flood situation in Aurai, Katra and Gighhat is critical, the administration has warned
--Advertisement--

औराई, कटरा व गायघाट में बाढ़ की स्थिति गंभीर, प्रशासन ने किया अलर्ट

बागमती का पानी औराई के निचले इलाकों में फैला, दोनों तटबंधों के बीच बसे गांवों से शुरू हुआ पलायन।

Danik Bhaskar | Jul 04, 2018, 12:08 PM IST

मुजफ्फरपुर. पाल तथा उत्तर बिहार के सीमावर्ती जिलों में हुई भारी बारिश के बाद गंडक, बूढ़ी गंडक व बागमती नदियों के जलस्तर में भारी वृद्धि हुई है। शिवहर जिले में बागमती नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। मुजफ्फरपुर जिले के औराई के निचले इलाकों में बाढ़ का पानी तेजी से फैल रहा है। भरथुआ रिंग बांध में कई जगह कटाव आरंभ हो चुका है। बेनीपुर के निकट दक्षिणी तटबंध में कटाव देखा गया। बभनगामा स्थित चचरी पुल उफनती धारा में बह गया।

गायघाट में पानी का फैलाव केवटसा व मिश्रौली के खेतों में हो रहा है। रून्नीसैदपुर व औराई के 2 लाख से ऊपर की आबादी बाढ़ की चपेट में आ सकती है। कटरा में बकुची स्थित पीपा पुल के दोनों छोड़ पर बाढ़ का पानी आने से वाहनों का परिचालन ठप है। दूसरी ओर प्रशासन के अल्टीमेटम के बावजूद खंगुरा व मोहनपुर में निर्माणाधीन स्लुइस गेट का निर्माण कार्य निर्धारित समय पर पूरा नहीं होने से प्रखंड की करीब 2 लाख की आबादी दहशत में है।

डीएम ने अत्यधिक बारिश को देखते हुए लोगों को सभी नदियों के दोनों तटबंध के बीच बसे गांवों के लोगों को सतर्क रहने तथा बागमती व बूढ़ी गंडक के दोनों तटबंधों के बीच बसे गांवों से निकल जाने की सलाह दी है। प्रशासन ने बाढ़ की संभावना को देखते हुए कटरा, औराई, गायघाट, पारू व साहेबगंज के बीडीओ व सीओ को विशेष रूप से सतर्क किया है। जल संसाधन विभाग ने अभियंताओं को अलर्ट जारी करते हुए तटबंधों पर सघन चौकसी बरतने का आदेश दिया है।