• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Patna News the guard was held hostage kept his guard then looted 50 lakh material from the warehouse of the electricity department

गार्ड को बंधक बना अपना गार्ड रखा, फिर विद्युत विभाग के गोदाम से 50 लाख की सामग्री लूट ली

Patna News - क्राइम रिपोर्टर | पटना / फतुहा अपराधियों ने हथियार के बल पर नदी थाना के मोजीपुर में स्थित साउथ बिहार पावर...

Oct 12, 2019, 08:46 AM IST
क्राइम रिपोर्टर | पटना / फतुहा

अपराधियों ने हथियार के बल पर नदी थाना के मोजीपुर में स्थित साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन के गोदाम के गार्ड को बंधक बनाया। उसका हाथ-पांव बांधने के बाद मारपीट कर जख्मी कर दिया, फिर मुंह में कपड़ा ठूंसकर गोदाम में ही डाल दिया। उस गार्ड की जगह पर लुटेरों ने गोदाम में एक फर्जी गार्ड रख दिया ताकि किसी को शक न हो। उसके बाद गोदाम में मौजूद सप्लायर को भी हथियार का खौफ दिखाकर वहां से 50 लाख का बिजली उपकरण लूट लिया और दो ट्रक में सामान लादकर फरार हो गए। गुरुवार की देर रात लूट की। इस बड़ी वारदात काे अंजाम देने के बाद दो ट्रकों में भरे बिजली के उपकरणों को पटना स्थित ट्रांसपोर्ट नगर ले आए। यहां से लुटे गए उपकरणों को दो कंटेनरों से दिल्ली भेजा जा चुका था। इसी बीच शुक्रवार को पुलिस ने ट्रांसपोर्ट नगर में छापेमारी की तब पता चला कि कुछ देर पहले ही दो कंटेनर रवाना हुआ है। ट्रांसपोर्ट नगर से कुछ दूर कसारा गांव स्थित धर्मकांटा पर छापेमारी की वहां एक कंटेनर और चालक को पुलिस ने पकड़ा। फिर उसकी निशानदेही पर दूसरे कंटेनर को चालक के साथ पुलिस ने दबोच लिया। पुलिस ने बाइक से जा रहे एक लुटेरे को गिरफ्तार करने के साथ ही ट्रांसपोर्ट से जुड़े छह लोगों को हिरासत में ले लिया। यही नहीं पुलिस ने दो ट्रक, दो कंटेनर, दो बाइक भी जब्त कर लिया। पुलिस हिरासत में लिए लोगों संदिग्धों से पूछताछ करने में जुटी है।

गार्ड के रोने की आवाज सुन ग्रामीणों ने दी सूचना, तब लूट का चला पता

गिरफ्तार लुटेरा माल सलामी थाना क्षेत्र के नवाबगंज का रवि कुमार है। दरअसल शुक्रवार की सुबह में गोदाम के पास लगे चापाकल से ग्रामीण पानी लेने के लिए गए थे। ग्रामीणों को गोदाम के अंदर से किसी के रोने की आवाज सुनाई दी। ग्रामीणों ने तत्काल इसकी सूचना गोदाम के मालिक विजय कुमार मुखिया को दी। गोदाम मालिक ने इसकी सूचना नदी थाने को दी। नदी थाना प्रभारी सकेंद्र कुमार बिंद खुद गोदाम पहुंचे तो देखा कि गोदाम के गार्ड पश्चिम बंगाल के बांकुरा निवासी दयामय पात्रो का हाथ-पैर बंधा हुआ है। वह रो रहा है।

कच्ची दरगाह के दो भाई सुनील-अनिल मास्टरमाइंड

पुलिस ने उसे मुक्त कर तत्काल पटना की ओर छापेमारी करनी शुरू कर दी। लुटे गए उपकरणों के बाद पुलिस ने जब हिरासत में लिए गए लोगों से पूछताछ शुरू की तो पता चला कि इस पूरे मामले का मास्टरमाइंड कच्ची दरगाह में किराए के मकान में रहने वाला अनिल सिंह व उसका भाई सुनील सिंह है। वैसे ये दोनों नालंदा के चंडी के मूल निवासी हैं।

गिरफ्तार रवि कुमार।

छापेमारी के बाद गोदाम के बाहर जब्त किया गया ट्रक और बरामद लाखो रुपए की बिजली सामग्री।

नकली बिल्टी बनाई गई थी दिल्ली भेजने के लिए, तीन पर केस दर्ज

बिट्‌टू कुमार ने विद्युत सामाग्री को दिल्ली भेजने के लिए नकली बिल्टी भी बना रखी थी। दूसरी तरफ गोदाम के स्टोर मैनेजर बैजनाथ कुमार ने बताया कि लुटेरों ने केबल, उल्फा कंडक्टर ड्रम तथा डॉक कंडक्टर के साथ साथ अन्य सामान लूट लिए थे। पुलिस ने गार्ड के बयान पर गिरफ्तार रवि कुमार के साथ-साथ फरार सुनील उसके भाई अनिल के अलावा बिटटू के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर ली है। फतुहा एएसपी मनीष कुमार ने बताया कि लूट की वारदात का खुलासा हो गया है।

गार्ड

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना