• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • To raise the issues of public in Parliament, Left forces must be strong, brinda karat said

लोकसभा चुनाव / वृंदा करात बोलीं-खिसक गई भाजपा की जमीन, जहर उगल रहे मोदी और शाह

Dainik Bhaskar

Apr 26, 2019, 04:07 PM IST



पत्रकारों से बात करतीं वृंदा करात। पत्रकारों से बात करतीं वृंदा करात।
X
पत्रकारों से बात करतीं वृंदा करात।पत्रकारों से बात करतीं वृंदा करात।

  • 'जनता की आवाज संसद में उठाने के लिए वामशक्ति जरूरी'

पटना. माकपा पोलित ब्यूरो की सदस्य वृंदा करात ने कहा कि भाजपा की जमीन खिसक चुकी है। देश भर में तीन चरणों के चुनाव से ही संकेत साफ है कि भाजपा और आरएसएस जैसी शक्ति को जनता केंद्र की सत्ता नहीं देने वाली है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह चुनावी भाषण में विपक्ष पर जहर उगल रहे हैं। संसद में जनता के मुद्दे को उठाने के लिए वाम ताकतों का मजबूत होना जरूरी है। शुक्रवार को वृंदा करात पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से बात कर रहीं थीं।

 

वृंदा करात ने कहा कि मुद्दों पर बात करने वालों, बेरोजगारी और महंगाई पर बात करने वालों को राष्ट्रविरोधी कहा जा रहा है। 2014 के लोकसभा चुनाव में झूठा वादा कर सत्ता में आने वाली मोदी सरकार आज बेरोजगारी पर बात करने से भाग रही है। बेरोजगारी बढ़ गई है। सांप्रदायकिता के नाम पर लोगों को भड़काया जा रहा है।

 

माकपा नेता ने कहा कि संसद में जब वामदलों की शक्ति मजबूत हुई है, तब ही देश में गरीब और आम जनता के हित में कानून बने हैं। 2004 से 2008 के बीच यूपीए-1 के शासन के दौरान ही कुछ बेहतर काम हुए। कांग्रेस नेतृत्व वाली यूपीए टू और एनडीए की सरकार में जनता के हित में कोई काम नहीं हुआ। माकपा और अन्य वामदलों का लक्ष्य है कि केंद्र में भाजपा और एनडीए को हटा कर वैकल्पिक सरकार बनवाना। केंद्र में वैसी सरकार बने जो गरीब, मजदूर, किसान, महिला और युवाओं के हित में काम करे। बेराजगारी दूर करने के लिए कारगर नीति तय करे।

COMMENT