पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

किऊल में बिना इंजन बदले पटना अाएंगी गया से अाने वाली ट्रेनें

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व मध्य रेल के जीएम ललित चंद्र त्रिवेदी ने बुधवार काे पटना-मुंगेर रेलखंड का विंडो ट्रेलिंग इंस्पेक्शन किया। इस दाैरान उन्होंने मुंगेर में गंगा नदी पर बने रेल पुल के साथ सबदलपुर-मुंगेर-जमालपुर रेलखंड के विद्युतीकरण कार्य का भी जायजा लिया। इसके बाद वे किऊल जंक्शन पहंुचे अाैर वहां बन रहे नए पुल व किऊल यार्ड रिमाॅडलिंग कार्य का निरीक्षण किया। फिर किऊल में बन रहे दोहरी लाइन वाले रेल पुल को किऊल के यार्ड रिमाॅडलिंग के साथ जोड़ने का निर्देश दिया। साथ ही निर्माणाधीन किऊल-गया दोहरीकरण परियोजना की समीक्षा की। कहा कि इस कार्य के पूरा हो जाने के बाद गया से आने वाली गाड़ियां किऊल में बिना इंजन रिवर्सल के पटना आ सकेंगी। उन्होंने कहा कि इसके बाद कोयले की निर्बाध ढुलाई संभव हो सकेगी। साथ ही पटना-हावड़ा रेलखंड पर गाड़ियों का परिचालन काफी सुगम हो जाएगा। निरीक्षण के दौरान प्रधान मुख्य इंजीनियर केडी रल्ह, मुख्य ब्रिज इंजीनियर बीएस चितौड़िया, मुख्य परियोजना निदेशक/रेल विद्युतीकरण एके चाैधरी, दानापुर मंडल के मंडल रेल प्रबंधक रंजन प्रकाश ठाकुर, सोनपुर के मंडल रेल प्रबंधक अनिल कुमार गुप्ता सहित कई रेल अधिकारी उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...