पटना

  • Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • Uday Narayan Chaudhary said that due to the wrong behavior of the Dalits, he resigned from JDU's primary membership.
--Advertisement--

काफी समय से नाराज चल रहे उदय नारायण चौधरी ने छोड़ा जेडीयू का साथ

उदय नारायण चौधरी ने कहा दलितों के साथ हो रहे गलत व्यवहार के कारण उन्होंने जेडीयू के प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया।

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 10:40 AM IST
Uday Narayan Chaudhary said that due to the wrong behavior of the Dalits, he resigned from JDU's primary membership.

पटना. लंबे समय से पार्टी से नाराज चल रहे पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने बुधवार को जनता दल यूनाइटेड(जेडीयू) का साथ छोड़ दिया। उदय नारायण चौधरी ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। उदय नारायण चौधरी का कहना है कि दलितों के साथ हो रहे गलत व्यवहार को लेकर उन्होंने जेडीयू का साथ छोड़ा है। जेडीयू-आरजेडी-कांग्रेस महागठबंधन टूटने के बाद उदय नारायण चौधरी पार्टी के खिलाफ लगातार बोलते रहे हैं।

अगला ठिकाना हो सकता है आरजेडी
इस सवाल पर कि उदय नारायण चौधरी का अगला ठिकाना क्या होगा उन्होंने कहा कि अभी कोई फैसला नहीं किया है। इतना पक्का है कि जेडीयू और बीजेपी में नहीं हूं। सांप्रदायिक लोगों से बाहर हूं। आरजेडी में जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि इससे इनकार नहीं किया जा सकता है। जेडीयू और भाजपा को छोड़ जो पार्टी बची है वह सब मेरे साथी हैं।

जेडीयू में जल्द मचेगा भगदड़
उदय नारायण चौधरी का कहना है कि उनके साथ जेडीयू के कई नेता पार्टी छोड़ने वाले हैं। जेडीयू में भगदड़ मचने वाला है। कई नेता उनसे संपर्क में हैं। पार्टी के अंदर हो रही उपेक्षा की वजह से कई नेता खुश नहीं हैं। मैं जेडीयू में बीस सालों से था। पार्टी को सींचने, संवारने में मैंने पूरा जोर लगाया है। पार्टी को आगे बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ा। लेकिन अब पार्टी में धनकुबेरों को आगे बढ़ाया जा रहा है। राज्य में महिलाओं पर हमले की लगातार घटनाएं सामने आ रही है। सरकार इसपर कोई ध्यान नहीं दे रही है। छात्रों की छात्रवृत्ति खत्म कर दी गई है। दलित एक्ट पर सरकार कुछ नहीं बोल रही है। प्रमोशन में आरक्षण खत्म कर दिया गया है।

पार्टी छोड़ना उदय नारायण चौधरी का अपना फैसला: जेडीयू
पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी के पार्टी छोड़ने पर जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा कि पार्टी से अलग होने का फैसला उनका फैसला है। पार्टी में उदय नारायण चौधरी का बहुत सम्मान दिया गया। नीतीश कुमार ने तो उन्हें विधानसभा अध्यक्ष बना दिया। इस सवाल पर कि दलितों के साथ हो रहे गलत व्यवहार पर उन्होंने पार्टी छोड़ी नीरज कुमार ने कहा जेडीयू और आरजेडी के शासन में दलितों के विकास रिपोर्ट को देख लीजिए। नीरज कुमार ने कहा कि नीतीश कुमार ने दलितों का बहुत विकास किया है। आरजेडी दलितों के नाम पर सिर्फ सियासत करती आई है। अपने शासनकाल में भी आरजेडी ने दलितों का कोई विकास नहीं किया।

X
Uday Narayan Chaudhary said that due to the wrong behavior of the Dalits, he resigned from JDU's primary membership.
Click to listen..