बिहार / पटना जंक्शन से गांधी मैदान तक अंडरग्राउंड गुजरेगी मेट्रो, घनी आबादी और तीखे मोड़ के चलते बदलाव

प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • बदलेगा पटना मेट्रो का कॉरिडोर, पीएमआरसी ने डीएमआरसी को रिपोर्ट बनाने का दिया निर्देश  

दैनिक भास्कर

Nov 10, 2019, 01:14 AM IST

पटना (मनोज प्रताप). पटना जंक्शन से गांधी मैदान के बीच मेट्रो रेल जमीन के नीचे से गुजरेगी। घनी आबादी और रेडियो स्टेशन के पास दो तीखे मोड़ के चलते करीब ढाई किलोमीटर लंबे इस सेक्शन का निर्माण भी अंडरग्राउंड कराया जाएगा। फिलहाल पटना जंक्शन से न्यू आईएसबीटी तक प्रस्तावित 14.45 किलोमीटर लंबे नार्थ-साउथ कॉरिडोर का पटना जंक्शन से पीएमसीएच सेक्शन एलीवेटेड है।

 

राइट्स ने फाइनल डीपीआर में जंक्शन से पीएमसीएच सेक्शन को एलीवेटेड ट्रैक पर चलाने का प्रस्ताव दिया था लेकिन पीएमआरसी ने फ्रेजर रोड में जमीन की अनुपलब्धता, घनी आबादी, रेडियो स्टेशन तथा दूरदर्शन केंद्र जैसे संवेदनशील संस्थानों की मौजूदगी को देखते हुए डीएमआरसी को नए सिरे से रिपोर्ट बनाने का निर्देश दिया है। रिपोर्ट आने के बाद पीएमआरसी निर्णय लेगा। 

 

स्टेशन- पटना जंक्शन, आकाशवाणी, गांधी मैदान, पीएमसीएच, पटना विवि, प्रेमचंद रंगशाला, राजेंद्र नगर स्टेडियम, मलाही पकड़ी, खेमनीचक, भूतनाथ रोड, जीरो माइल,न्यू आईएसबीटी

 

राजेंद्र नगर स्टेडियम के पास बनेगा टर्मिनल स्टेशन, 2022 तक तैयार करने की योजना
इस बीच इसी कॉरिडोर पर राजेन्द्र नगर टर्मिनल पर प्रस्तावित स्टेशन के स्थान में भी बदलाव किया जाएगा। पीएमआरसी ने इस स्टेशन को राजेन्द्र नगर स्टेडियम के पास बनाने का प्रस्ताव दिया है। मेट्रो का यह कॉरिडोर मलाही पकड़ी से खेमनीचक और भूतनाथ रोड, जीरो माइल होते हुए न्यू आईएसबीटी तक जाएगा। कुम्हरार के पास एएसआई साइट होने से रूट बदला गया है। पीएमआरसी ने राजेन्द्र नगर टर्मिनल से आईएसबीटी के बीच के सेक्शन को प्रायोरिटी कॉरिडोर के रूप में चिन्हित किया है। यह सेक्शन एलिवेटेड होगा, जिसके लिए जमीन अधिग्रहण नहीं होगा। इस सेक्शन का निर्माण 2022 तक पूरा करने की योजना है। इस सेक्शन के लिए डीएमआरसी ने मिट्टी की जांच का काम शुरू कर दिया है, जो तीन महीने तक चलेगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना