• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • Patna - पुरानी किताबों के इस्तेमाल से व्यर्थ की छपाई रुकेगी और पेड़ों की कटाई भी
--Advertisement--

पुरानी किताबों के इस्तेमाल से व्यर्थ की छपाई रुकेगी और पेड़ों की कटाई भी

पुरानी किताबों के इस्तेमाल से व्यर्थ की छपाई रुकेगी और पेड़ों की कटाई भी सिटी रिपोर्टर।|पटना -स्टूडेंट्स...

Dainik Bhaskar

Sep 10, 2018, 05:06 AM IST
Patna - पुरानी किताबों के इस्तेमाल से व्यर्थ की छपाई रुकेगी और पेड़ों की कटाई भी
पुरानी किताबों के इस्तेमाल से व्यर्थ की छपाई रुकेगी और पेड़ों की कटाई भी

सिटी रिपोर्टर।|पटना

-स्टूडेंट्स ऑक्सीजन मूवमेंट के सदस्यों ने पुरानी किताबों के इस्तेमाल और पर्यावरण की रक्षा विषय पर एक परिचर्चा का आयोजन किया। परिचर्चा में पुराने किताबों को नए क्लास में पढ़ने वाले स्टूडेंटों को देने के साथ ही उसके महत्व के बारे में बताया गया। इस अवसर पर मूवमेंट के कन्वेनर बिनोद सिंह का कहना है कि पेपर के निर्माण में पेड़ों का इस्तेमाल होता है। इससे पर्यावरण पर प्रभाव पड़ता है। नए क्लास में पुरानी किताबों के इस्तेमाल करने पर व्यर्थ में हर साल होने वाली छपाई रुकने के साथ ही पेड़ों की कटाई में भी रोक लगेगी। मूवमेंट की डायरेक्टर दिव्या ने कहा कि पुरानी किताबों के इस्तेमाल से बच्चों को नई किताबें नहीं खरीदनी पड़ती हैं। इससे धन की बचत होती है। इससे बच्चों को भविष्य में बचत की सीख मिलती है। परिचर्चा में आशिन भारद्वाज, सुनैना, आदित्या मिश्रा, सुनैना साह, सपना. रूपाली, कोमल, रीना, सौरभ, सुमित, अंकित राज, पीयूष कुमार, कुमार अमृत, नीरज, रिशु कुमार, मनोज कुमार, दिव्या ने अपने विचार रखे। आशिन भारद्वाज को फ़र्स्ट, सुनैना शाह को सेकेंड और आदित्य मिश्रा को थर्ड पुरस्कार दिया गया।

ऑक्सीजन मूवमेंट ने पुरानी किताबों के इस्तेमाल पर की चर्चा

X
Patna - पुरानी किताबों के इस्तेमाल से व्यर्थ की छपाई रुकेगी और पेड़ों की कटाई भी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..