आदेश / सर्वे सेटेलमेंट को चुनौती मानकर तेजी से करें काम: नीतीश



Work fast by considering survey settlement as a challenge: Nitish
X
Work fast by considering survey settlement as a challenge: Nitish

  • मुख्यमंत्री के समक्ष राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग का प्रस्तुतीकरण
  • मजबूती और तेजी के साथ काम करें राजस्व कर्मी
  • नए सर्वे सेटेलमेंट से जमीन संबंधी विवादों का समाधान तो होगा

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2019, 08:33 PM IST

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजस्व कर्मियों को सर्वे सेटेलमेंट की जिम्मेदारी को चुनौती मान कर तेजी से काम पूरा करने का आदेश दिया है। बुधवार को 1, अणे मार्ग में मुख्यमंत्री के सामने राजस्व और भूमि सुधार विभाग ने अपने कामकाज पर एक प्रेजेंटेशन दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में विकास कार्यों की वजह से भी जमीन की कीमत बढ़ रही हैं। इसलिए जमीन से संबंधित विवादों का निपटारा जरूरी है। नए सर्वे सेटेलमेंट से जमीन संबंधी विवादों का समाधान तो होगा ही, साथ ही इससे फसलों की उत्पादकता बढ़ेगी। और, समाज में अमन चैन का माहौल भी बना रहेगा।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में होने वाले अपराध में कम से कम 60 प्रतिशत मामले भूमि विवाद से जुड़े होते हैं। बिहार में भूमि विवाद के निराकरण के लिए सिरे से सर्वे और सेटलमेंट का काम जारी है। पारिवारिक बंटवारे की जमीन की रजिस्ट्री मात्र 100 रुपये (50 रुपया स्टैंप ड्यूटी और 50 रुपया निबंधन शुल्क है) के सांकेतिक शुल्क पर निर्धारित की गई है। लोगों के बीच भूमि सुधार नियमावली को प्रचारित किया जाना चाहिए, जिससे विभाग द्वारा किए जा रहे भूमि सुधार से संबंधित कार्यों की जानकारी लोगों को मिल सके।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि लोक सेवा का अधिकार कानून और लोक शिकायत निवारण अधिकार कानून के अंतर्गत दाखिल-खारिज और राजस्व से संबंधित जो मामले लंबित हैं, उसके समाधान की समीक्षा की जानी चाहिए। आप सभी को मजबूती और तत्परता से काम करना चाहिए, ताकि नियत समय में सभी काम पूरे हो सकें।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना