पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Kasba News Letter Box Will Be Equipped With Gps High Ranking People Will Get Updates

जीपीएस से लैस होंगे लेटर बॉक्स उच्च पदस्थों को मिलेंगे अपडेट

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

मोबाइल, इंटरनेट के युग में चिट्ठी का जमाना भले लद गया हो पर अब भी डाकसेवा पर हम सभी की निर्भरता बनी हुई है। सरकारी विभागों, बैंक आदि का पत्राचार डाक विभाग के माध्यम से ही होता है। नौकरियों के लिए फॉर्म अप्लाई, कॉल लेटर वगैरह डाकघरों के माध्यम से होता है। बराबर ऐसे मामले सामने आते हैं कि जरूरी डाक पत्र वगैरह संबंधित तक समय पर पहुंचते ही नहीं। इसके जिम्मेवार डाकिया व संबंधित कर्मचारी होते हैं। लेटर बॉक्स सप्ताह भर तक नहीं खोले जाते हैं। समय के साथ कदमताल करते हुए डाक विभाग ने खुद को अपडेट कर लिया है। अब पुराने लेटर बॉक्स का जमाना भी लदने वाला है। अब जीपीएस सिस्टम से लैस लेटर बॉक्स लगाए जा रहे हैं। लेकिन अब ऑनलाइन लेटर बॉक्स की मॉनिटरिंग होगी। प्रखंड में लेटर बॉक्स की ऑनलाइन निगरानी के लिए तैयारी शुरू कर दी गई है।

हटाए गए पुराने लेटर बॉक्स: पहले वाले पुराने सभी लेटर बॉक्स को हटा दिया गया है। अब निगरानी के लिए लेटर बॉक्स को जीपीएस सिस्टम से लैस किया जाएगा। स्थानीय डाक ऑफिस के अनुसार जीपीएस सिस्टम से जोड़ने के बाद इसका मॉनिटरिंग स्थानीय डाक विभाग के अधिकारी करेंगे। स्थापित किए जा रहे लेटर बॉक्स को पोस्टमैन मोबाइल पर पिन कोड के अलावा पांच डिजिट का कोड डालेंगे। रजिस्ट्रेशन होते ही लेटर बॉक्स खुलेगा। लेटर बॉक्स के खुलते ही मॉनिटरिंग कर रहे दिल्ली तक के अधिकारी को पता चल जाएगा। जिस दिन लेटर बॉक्स नहीं खुलेगा इसकी उन्हें जानकारी हो जाएगी।

खबरें और भी हैं...