सदर अस्पताल की कुव्यवस्था को ले आरडीडीई को दिया पत्र

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सदर अस्पताल की कुव्यवस्था काे ले समाजसेवी सोनी सिंह ने स्वास्थ्य उप निदेशक को पत्र सौंपा है। दरअसल सदर अस्पताल के बाहर सौंदर्यीकरण का कार्य तो किया जा रहा है लेकिन लोग जिस उद्देश्य से आते हैं वह सुविधा उन्हें नहीं मिल पाती है।

दवा के लिए भी बाहर की दुकान से दवा खरीद कर काम चलाना पड़ता है। मरीजों की संख्या इतनी बढ़ गई है कि अंदर रूम में सभी बेड फुल हैं और बाहर बरामदे पर बेड या फिर नीचे जमीन पर ही मरीजाें को लिटा कर इलाज किया जा रहा है। अल्ट्रासाउंड, एक्सरे और सिटी स्कैन के लिए बाहर निजी सेंटर का सहारा लेना पड़ता है। मरीजों को दी जाने वाली भोजन में भी काफी घपलाबाजी है। इन्हीं बातों को लेकर समाजसेवी सोनी सिंह ने शनिवार को क्षेत्रीय स्वास्थ्य उप निदेशक को पत्र देकर समस्या का समाधान की मांग की है। सोनी सिंह ने कहा अस्पताल में बाहर का माहौल और अंदर के विधि व्यवस्था में काफी अंतर है। अस्पताल के दिवाल पर सभी तरह के दवा उपलब्ध होने की सूचना चस्पा दी गई है। लेेकिन अंदर की हालत कुछ और है। अस्पताल के वार्डों में साफ सफाई की भारी कमी है। सोनी ने कहा मरीजों को दिए जाने वाले भोजन मेनू के हिसाब से नहीं दिया जाता है और भोजन में कटौती की जाती है। सोनी ने कहा एक वार्ड में 60 से अधिक मरीज रहते हैं लेकिन भोजन मुश्किल से 50 सेकेंड तक की पड़ोसा जाता है जिसमें कई मरीजों को भोजन नहीं मिल पाता है।

सदर अस्पताल की कुव्यवस्था को ले स्वास्थ्य उप निदेशक को सौंपा पत्र।

खबरें और भी हैं...