• Hindi News
  • National
  • Purnia News Now There Is No Cleanliness Of The Drain There Is No Water Drainage System For 3 Days Is Deposited On City Roads

कहीं नाले की सफाई नहीं तो कहीं बना ही नहीं, शहर की सड़कों पर 3 दिन से जमा है पानी, निकासी की व्यवस्था नहीं

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पिछले दिनों हुई बारिश से शहर का मुख्य नाला, गली मोहल्ले के छोटे-छोटे नालों की समुचित सफाई नहीं होने से नाले उफन रहे हैं। लोगों को गंदे पानी के बीच से घरों में प्रवेश करना पड़ रहा है। सभी 46 वार्डों में सड़क का निर्माण तो कराया गया है, लेकिन नाले का निर्माण नहीं होने से पानी सड़कों पर जमा हो रहा है। हालत यह है कि लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया है।

बारिश के कारण शहर के नेवालाल चौक से लाइन बस्ती जाने वाली सड़क, विवेकानंद कॉलोनी से रजनी चौक होते मजार जाने वाली सड़क और डॉलर हाऊस से माता स्थान मंदिर को जाने वाली सड़क पर पर पानी जमा है, लेकिन इसकी निकासी की व्यवस्था बारिश के तीन दिन बाद भी नहीं की गई है।

124 सड़क व नाले का कार्य हुआ शुरू

30 करोड़ की लागत से शहर के विभिन्न वार्डों में 124 सड़क व नाले का निर्माण कार्य शुरू कराया गया है। जल्द ही शहर के अधिकांश इलाके में जलजमाव की समस्या दूर हो जाएगी। सविता देवी, मेयर, नगर निगम, पूर्णिया

निविदा की प्रक्रिया पूरी कर ली गई

शहर में ठोस कचरे के निष्पादन व नालों की सफाई के लिए तीन एनजीओ को तैनात करने की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। उन्हें जल्द ही कार्यभार सौंप दिया जाएगा। इसके बाद सफाई की समस्या नहीं रहेगी। विजय कुमार सिंह, नगर आयुक्त, नगर निगम पूर्णिया

शहर के नेवालाल चौक से लाइन बस्ती जाने वाली सड़क पर जमा पानी।

बाजार व ऑफिस जाने में लोगों को हो रही कठिनाई

वार्ड नंबर 24 के नेवालाल चौक से लाइन बस्ती को जाने वाली सड़क पर जलजमाव कुछ इस कदर है कि लोगों का बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। उन्हें बाजार या फिर ऑफिस जाने में भारी परेशानी होती है। हाथों में जूते-चप्पल लेकर ही निकलना पड़ता है। इस इलाके में जलजमाव से करीब 500 घर प्रभावित हैं। कई बार वार्ड पार्षद से लेकर निगम पदाधिकारी तक शिकायत की गई, लेकिन नतीजा सामने है। इलाके के भोला जायसवाल, जयकांत, त्रिभुवन मेहता, शैलेंद्र सिंह, दिनेश शर्मा, प्रभु जी समेत अन्य का कहना है कि नाला तो बनाया गया है, लेकिन सड़क से तीन से चार फीट ऊंचा होने के कारण बरसाती पानी सड़क पर ही जमा हो जाता है। वार्ड पार्षद आशा श्रीवास्तव का कहना है कि फिलहाल फंड नहीं आ रहे हैं। इससे हमलोग एक टेलर मिट्‌टी भी नहीं गिरा पा रहे हैं। यह सड़क दो किलोमीटर लंबी है। हमलोग छोटी सड़कें ही बना पाते हैं। नगर निगम की बैठक में इस मुद्दे को उठाया जाएगा।

कहा-सुविधा के नाम पर कुछ नहीं, नगर निगम में बार-बार शिकायत के बाद नहीं हो रही कार्रवाई

वार्ड नंबर 25 अंतर्गत विवेकानंद कॉलोनी से रजनी चौक होते मजार जाने वाली सड़क पर जमा पानी भी शहरी क्षेत्र की दुर्दशा बयां कर रहा है। इस इलाके के लोग भी जलजमाव से काफी परेशान हैं। लोग कहते हैं कि नगर निगम में बार-बार शिकायत के बाद नहीं हो रही कार्रवाई के कारण अब शिकायत करने से भी हमलोगों ने परहेज कर लिया है। इस सड़क के दोनों किनारे सैकड़ों की तादाद में घर बने हैं और सुविधा के नाम पर कुछ नहीं है। हर तरफ सिर्फ एक ही शिकायत मिल रही है कि नाले की उड़ाही नहीं होने से ऐसी स्थिति बन रही है। लोगों का कहना है कि निगम पदाधिकारी व सफाईकर्मियों की शिथिलता के कारण जलजमाव की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। सड़क निर्माण के साथ साथ यदि बेहतर तरीके से नाले का निर्माण कर दिया जाए तो बेशक जलजमाव की स्थिति नहीं रहेगी।

डॉलर हाउस से मधुबनी बाजार जाने वाली सड़क पर जमा पानी।

डॉलर हाउस चौक सड़क से आने-जाने में परेशानी

मधुबनी बाजार से डॉलर हाऊस चौक होते माता स्थान मंदिर तक जाने वाली सड़क की तस्वीर सबसे भयावह है। दरअसल इस सड़क का निर्माण कार्य कराया जा रहा है और करीब तीन फीट गड्‌ढ़ा कर दिया गया है। यह कार्य पिछले एक माह से चल रहा है और एकाध दिनों से हो रही बारिश के बाद स्थिति विषम हो चुकी है। लोगों का इस सड़क से होकर निकलना पूरी तरह से बंद हो चुका है। लोग गली मोहल्ले की सड़क से होकर आवागमन कर रहे हैं। हालांकि इसे लेकर जब मेयर सविता देवी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि ठेकेदार को सख्त हिदायत दी गई है कि इस सड़क का निर्माण जल्द से जल्द पूरा किया जाए। ठेकेदार को नसीहत दी गई है।जिसके बाद तीव्र गति से कार्य किया जा रहा है। पार्षद प्रतिमा कुमारी का कहना है कि इस मुख्य सड़क के अलावे भी कई जगहों पर बन रही सड़क में ठेकेदार के द्वारा लापरवाही बरती जा रही है। जिस पर ऐतराज जताया है। उनका कहना है कि जल्द ही इसकी शिकायत निगम पदाधिकारी से की जाएगी।

गंदा पानी सड़क पर, खजांची हाट के 50 घरों के लोगों का निकलना मुश्किल
भास्कर न्यूज | पूर्णिया

भगेलू साह मुख्य नाला का पानी उफनकर खजांची हाट मोहल्ले की सड़कों पर फैल गया है। इस कारण करीब 50 घरों के लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो गया है। वार्ड नंबर-27 स्थित खजांची हाट मोहल्ले के लोगों ने निगम पदाधिकारियों से लिखित शिकायत कर सफाई व्यवस्था को पटरी पर लाने व नाले का निर्माण कराए जाने की मांग की है।

इस वार्ड के लोगों ने बताया कि उनके मोहल्ले के ठीक बगल से भगेलू साह मुख्य नाला बहता है। इसमें पूरे शहर का मसलन नवरतन हाता, बाड़ीहाट, भट्‌ठा बाजार, लाइन बाजार समेत आसपास के इलाके का पानी बहता है। यह नाला उनके मोहल्ले के काफी करीब होने व नाले की समुचित सफाई नहीं होने के कारण नाले का गंदा पानी उनके मोहल्ले में जमा होने लगता है। वहीं बारिश होने के बाद तो घर से बाहर निकलना मुश्किल हो जाता है। सड़क पर गंदा पानी जमा हो जाने से बदबू और सड़ांध से बीमारी फैलने की भी संभावना बनी रहती है।

सैयद एहसान, मो. महताब आलम, नजाम, शाहिद, मो. साबिर, मो. रसीद, मो. साेनू समेत कई अन्य लोगों ने बताया कि इसकी लिखित शिकायत नगर आयुक्त विजय कुमार सिंह से की गई है, लेकिन अब तक इस दिशा में कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है। उन्होंने निगम के पदाधिकारियों से जल्द से जल्द भगेलू साह नाले की उड़ाही कराए जाने व सड़क नाला निर्माण की मांग की है।

वार्ड नंबर 27 अंतर्गत खजांची हाट की बदहाल तस्वीर।

अभियान की उड़ रही धज्जियां

एक ओर जहां केंद्र व राज्य सरकार स्वच्छ भारत अभियान की बात करती है तो दूसरी ओर नगर निगम पूर्णिया के अमूमन सभी 46 वार्डों में इस अभियान की धज्जियां उड़ रही हैं। लोग गंदगी व नाले की समस्या से त्रस्त हैं। नगर निगम में बार बार शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। लोगों ने बताया कि गंदगी के कारण उन्हें नारकीय जीवन जीना पड़ रहा है। बच्चों को स्कूल कॉलेज जाने में भारी परेशानी होती है। लोग जूते पहनकर अपने ऑफिस तक नहीं जा पाते हैं।

चल रहा है रूटीन वर्क

नगर निगम अंतर्गत सभी वार्डों में सफाई का कार्य रूटीन वर्क के तौर पर चल रहा है, जहां से भी शिकायत मिल रही है, त्वरित कार्रवाई की जा रही है। विजय कुमार सिंह, नगर आयुक्त, नगर निगम

खबरें और भी हैं...