पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दो दिन से 24 घंटे में केवल छह घंटे मिल रही बिजली

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्णिया शहर को जहां प्रदेश की उप राजधानी बनाने की मांग की जा रही है वहीं दूसरी ओर शहर में लगातार बिजली संकट बढ़ रहा है। पूर्णिया कोसी और सीमांचल क्षेत्र का सबसे बड़ा और आधुनिक शहर है लेकिन बिजली की बदहाल आपूर्ति ने यहां के लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। शहर में बिजली व्यवस्था की हालत काफी खराब है।

दो दिन पूर्व 10 घंटे तक बिजली की सप्लाई थी तो वहीं मंगलवार और बुधवार को मात्र छह घंटे ही बिजली की सप्लाई की गई। बिजली सप्लाई की हालत यह है कि बिजली तो आती है लेकिन मुश्किल से पांच मिनट तक उसके बाद बिजली घंटों गुल हो जाती है। इन दिनों शहर में भीषण गर्मी है और पूरे शहर में तपिश से लोग बेहाल हैं। विभाग की लापरवाही के कारण लोगों का जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। खासकर रात के समय लोगों को और भी परेशानी होती है। आलम यह है कि लोग गर्मी के कारण रतजगा कर रहे हैं। शहर में इन दिनों बिजली की हालत एक जैसी है। ऐसा कोई इलाका नहीं है जहां बिजली की समस्या न हो।

बिहार विकास मोर्चा के अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि बिजली विभाग की लापरवाही के कारण आम लोग बिजली सेवा से परेशान हैं। साथ ही बिजली व्यवस्था बीमार होने के कारण कई उद्योग व कारोबार पर भी इसका सीधा असर पड़ रहा है। राकेश ने कहा कि पूरे शहर में दस दिनों से बिजली व्यवस्था बदहाल है। लोगों को अब 24 घंटे में मात्र छह घंटे ही बिजली नसीब हो रही है।

खबरें और भी हैं...