पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

‘पहले आओ और पहले योजना का लाभ पाओ’

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जिला कृषि कार्यालय परिसर में रविवार को कृषि यांत्रिकरण मेला का आयोजन किया गया। कृषि यांत्रिकरण मेला का सिमरी बख्तियारपुर के विधायक जफर आलम, डीएओ दिनेश प्रसाद सिंह, परियोजना निदेशक आत्मा संतोष कुमार सुमन, सहायक निदेशक पौधा संरक्षण डा. मनोज कुमार सहित अन्य ने संयुक्त रूप से उद्घाटन किया।

इस मौके पर जिला कृषि पदाधिकारी दिनेश प्रसाद सिंह ने किसानों को इस योजना के उद्देश्य से अवगत कराते हुए कहा कि पहले आओ और पहले पाओ के आधार पर आवेदकों को लाभ दिया जाता है। कृषि यांत्रिकरण का लाभ राज्य योजना, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन एवं हरित क्रांति योजना के तहत प्रगतिशील किसानों को अनुदान का भुगतान किया जाता है। उन्होंने कहा कि कृषि यांत्रिकरण योजनांतर्गत 2019-20 में कुल 75 यंत्र पर 40 से 75 प्रतिशत तक अनुदान देय है।

डीजल पंपसेट को अनुदान से रखा गया अलग

इस बार डीजल पंपसेट को अनुदान से अलग रखा गया है। केवल इलेक्ट्रीक पंपसेट पर बिहार सरकार अनुदान दे रही है। विधायक जफर आलम ने कहा कि कृषि में यंत्र का बहुत बड़ा योगदान है। किसानों के हितकारी योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार होने से ही किसानों को समुचित लाभ मिल सकता है। इस मौके पर जिला कृषि कार्यालय के परामर्शी डा. मनोज कुमार ने कहा कि गरमा में मूंग प्रत्यक्षण 212 एकड़, अन्तवर्ती फसल प्रत्यक्षण संकर मक्का के साथ गरमा मंग का कुल लक्ष्य 234 एकड़ का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। जिसे पंचायतवार विभाजन कर सभी कर्मी को प्राप्त कराया गया।

इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को डीबीटी पोटल पर ऑन लाईन आवेदन करना होगा और ओटीपी प्राप्त कर प्राधिकृत दुकानों से क्रय करना होगा। इस संबंध में किसान विस्तृत जानकारी किसान सलाहकार, कृषि समन्वयक एवं प्रखंड कृषि पदाधिकारी से प्राप्त कर सकते हैं।

कृषि भवन में आयोजित यांत्रिकीकरण मेले का दीप प्रज्ज्वलित कर उद्‌घाटन करते विधायक जफर आलम व मौजूद अन्य पदाधिकारी।
खबरें और भी हैं...