सदर अस्पताल में चार स्ट्रैचर कीे बाद भी गोद में मरीजों को उठाना लाचारी

Saharsa News - प्रमंडलीय मुख्यालय का सदर अस्पताल अपनी बेवसी और लाचारी पर आंसू बहा रहा है। आर्थिक रूप से कमजोर सहरसा जिले के...

Bhaskar News Network

Mar 17, 2019, 05:05 AM IST
Saharsa News - after taking four strokes in the sadar hospital lifting patients in the lap is also helpless
प्रमंडलीय मुख्यालय का सदर अस्पताल अपनी बेवसी और लाचारी पर आंसू बहा रहा है। आर्थिक रूप से कमजोर सहरसा जिले के विभिन्न गांव के अलावा सुपौल व मधेपुरा के साथ खगड़िया तक के मरीज यहां इलाज करवाने के लिए पहुंचते हैं। लेकिन सदर अस्पताल में मरीजों का इलाज भगवान भरोसे ही होता है।

सदर अस्पताल की अव्यवस्था का आलम यह है कि रोगियों को बेड तक टांगकर, गोद में उठाकर ले जाया जाता है। यह नजारा दिखा शनिवार की दोपहर को जब बनगांव थाना क्षेत्र के बरियाही गांव निवासी शंभू यादव की मां शकुनी देवी के पांव में चोट लगने की वजह से वह चल पाने की स्थिति में नहीं थी। जिसे शंभू यादव टेम्पू में लेकर सदर अस्पताल पहुंचे। लेकिन सदर अस्पताल में स्ट्रैचर नहीं मिलने की वजह से गोद में अपनी मां को लेकर आपातकालीन कक्ष तक जाना पड़ा। करीब उसी वक्त मधेपुरा जिले के भतरंधा से बद्री राम अपने नाती अमित कुमार को लेकर सदर अस्पताल पहुंचे। अमित कुमार बांस से गिर पड़ा था। जिसको लेकर पांव पर खड़ा नहीं हो पा रहा था। ओपीडी में मौजूद डा.ने अमित कुमार की एक्सरे करवाने के लिए कहा।

कोई अन्य उपाय नहीं होने की वजह से उन्होंने अपने नाती को गोद में उठाया और एक्सरे करवाने के लिए एक्सरे रूम में ले गए। हालांकि पूछे जाने पर अस्पताल के कर्मचारियों ने बताया कि सदर अस्पताल में 4 स्ट्रैचर मौजूद है। लेकिन मरीजों को वक्त पर नहीं दिया जाता है। सीएस डा. ललन कुमार सिंह ने बताया कि मैं अभी नया हूं इसलिए व्यवस्था के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है। इस मामले की जांच कर दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।

स्ट्रैचर नहीं मिलने के कारण मरीजाें काे गाेद में उठाकर ले जाते परिजन।

Saharsa News - after taking four strokes in the sadar hospital lifting patients in the lap is also helpless
X
Saharsa News - after taking four strokes in the sadar hospital lifting patients in the lap is also helpless
Saharsa News - after taking four strokes in the sadar hospital lifting patients in the lap is also helpless
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना