इब्राहिम ने नहीं छोड़ा रीना का साथ तो फिरोजा ने करवा दिया रीना का कत्ल

Saharsa News - बीते शुक्रवार की देर शाम स्थानीय सुबेदारी टोला ,वार्ड नंबर 39 निवासी सुनील शर्मा की प|ी रीना देवी की गोली मार कर हुई...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 10:01 AM IST
Saharsa News - ibrahim did not leave reena then firoza got reena killed
बीते शुक्रवार की देर शाम स्थानीय सुबेदारी टोला ,वार्ड नंबर 39 निवासी सुनील शर्मा की प|ी रीना देवी की गोली मार कर हुई हत्या का राज खुल गया है। हत्या में शामिल एक महिला समेत तीन लोगों की गिरफ्तारी भी सुनिश्चित कर ली है। वही गोली चलाने के आरोपी दो अन्य अपराधी फरार होने में सफल रहे हैं। जिनकी गिरफ्तारी अब तक नहीं हो पाई है। गिरफ्तार लोगों को जेल भेजा गया है।

क्यों हुई रीना की हत्या

रीना देवी एक दिहारी मजदूर थी। वे भेड़धरी टोला निवासी मो इब्राहिम गार्दी के आलू गोदाम सहित घर में दैनिक मजदूरी पर काम करती थी। इस दौरान इब्राहिम की नजदीकी रीना से हो गई। जिसकी भनक इब्राहिम की प|ी फिरोजा को भी हो गई थी। ऐसे में बार-बार फिरोजा द्वारा रीना को काम छोड़कर चले जाने की हिदायत दी जा रही थी। लेकिन रीना को इब्राहिम काम नहीं छोड़ने दे रहा था। ऐसे में बीते 18 अगस्त को पहले रीना के ऊपर फिरोजा ने अपने दामाद और उनके मित्रों से गोली चलवाई थी। गोली रीना को लगी। लेकिन वह घातक नहीं हुई थी। जिसके बाद इब्राहिम ने रीना को पुलिस को कोई भी कहानी नहीं कहने से मना लिया था। जिसके कारण इब्राहिम पुलिस के गिरफ्त में आकर भी छोड़ दिया गया था।अब

किन-किन लोगों की हुई गिरफ्तारी

एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने बताया कि मृतिका के पति के बयान पर भेड़धरी टोला निवासी मो इब्राहिम गार्दी ,उसकी प|ी फिरोजा खातून और सिमराहा निवासी दामाद मो आफताब की गिरफ्तारी कर ली गई है। जिन्हें अग्रतर कार्रवाई के लिए जेल भेजा गया है। हालांकि गोली मारने के दो अन्य आरोपी अभी भी पुलिस पकड़ से दूर हैं।

पुन: रीना का संबंध बना रहा इब्राहिम के साथ

बीते 18 अगस्त को हुई गोलीबारी की घटना के बाद स्वस्थ होने पर रीना पुनः इब्राहिम के आलू गोदाम और घर पर काम करने जाने लगी। फिरोजा को यह नागवार लगा। उसने रीना को इब्राहिम से दूरी बनाने की लिए काम छोड़ देने की धमकी दी। लेकिन इब्राहिम और रीना एक-दूसरे से मिलते रहे। जिसकी भनक फिरोजा को फिर मिली। ऐसे में उन्होंने स्थानीय सिमराहा टोला निवासी अपने दामाद मो आफताब और उनके दो अन्य सहयोगियों की मदद लेकर बीते 8 नवंबर की देर शाम रीना देवी को गोली मारकर हत्या करवा दी।

X
Saharsa News - ibrahim did not leave reena then firoza got reena killed
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना