पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नया बाजार-नरियार सड़क छह घंटे जाम

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहर के सभी सड़कों की हालत इस कदर जर्जर हो गयी है कि कहीं भी चलने के रास्ते नहीं बचे हैं। सड़कों में बने बड़े-बड़े गड्ढे और गड्ढों में जलजमाव से आजिज स्थानीय नया बाजार के लोगों ने बुधवार की सुबह 8 बजे से दिन के 2 बजे तक नया बाजार-नरियार मुख्य सड़क को जाम कर दिया। बाईपास से होकर निकलने वाली सभी गाड़ियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। उन्हें काफी लंबा चक्कर लगाकर गंतव्य तक जाना पड़ा।

जाम की सूचना के बाद महीनों से जाम नाला की सफाई करने पहुंचे नगर परिषद के कर्मियों को जाम कर रहे लोगों के आक्रोश का सामना करना पड़ा। बाद में नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी प्रभात रंजन एवं सदर थाना अध्यक्ष राजमणि जाम स्थल पहुंच कर आंदोलनरत लोगों से बातचीत की । शीघ्र सड़क ठीक कर देने के आश्वासन के बाद आंदोलन समाप्त हुआ।

नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी ने कहा- मानसून के बाद सुंदर दिखेगा शहर

मौके पर मौजूद कार्यपालक पदाधिकारी प्रभात रंजन ने बताया कि लोकसभा चुनाव के दौरान ही उन्होंने अनुबंध पर सफाई कर्मियों की बहाली की प्रक्रिया शुरू करने का प्रयास किया था। लेकिन आचार संहिता लागू होने के कारण प्रक्रिया बाधित रही। चुनाव खत्म होने के बाद जब-तक अनुबंध पर नए सफाई कर्मी की बहाली की प्रक्रिया की जाती। तब-तक मानसून आ गया था।

ऐसे में मानसून के शुरुआत से ही नगर परिषद द्वारा शहर के सभी नालों की साफ-सफाई की प्रक्रिया करवाई जा रही थी। लेकिन 40 वार्ड के नाले की साफ-सफाई मानसून से पूर्व कराना संभव नहीं हो सका। ऐसे में नगर परिषद कर्मी पानी में भींग-भींग कर भी लगातार पिछले कई दिनों से नाले की सफाई करवा रहे हैं। तीन यूनिट बांटकर शहर के तीन प्रमुख नालों की सफाई लगातार करवाई जा रही थी। लेकिन मानसून के बाद नाले की स्थिति पूर्णरूपेण अच्छे शहरों की तरह बना दिया जाएगा।

सदर थानाध्यक्ष और नप ईओ मौके पर पहुंचे प्रदर्शनकारियों को दिया आश्वासन, तब हटे

नया बाजार -नरियार रोड पर टायर जला विरोध करते नागरिक।

ट्रक चालकों ने ग्रामीणों की मदद से सभी गड्‌ढों को भरना किया शुरू

एनएच 107 पर गड्ढे में ईंट गिरवाते ग्रामीण

सहरसा | सोनवर्षा स्थित माली चौक से मनौरी चौक तक जर्जर एनएच 107 सड़क में बने सैकड़ों गड्ढे में फंसे भारी वाहनों के प्रतिदिन लग रहे जाम से निजात पाने के लिए बुधवार को जाम में फंसे ट्रकों के चालकों ने स्थानीय ग्रामीणों की मदद से खूद उपाय ढूंढा। ट्रक चालकों ने आपस में चंदा कर ग्रामीणों की मदद से सोनबरसा स्थित दक्षिण टोला के समीप तीन से चार फीट गड्ढों में ईंट गिरवाकर बुधवार दोपहर बाधित आवागमन बहाल करवाया। सड़क मरम्मत में उदासीन एनएचएआई और प्रशासन से आजिज होकर लोगों ने अपना हाथ जगन्नाथ वाली कहावत सिद्ध कर दिया है। बताते चलें कि मंगलवार की शाम सोनवर्षाराज बाजार के दक्षिण टोला के समीप सड़क किनारे गड्ढे में ट्रक के फंसने से दोनों और भारी वाहनों की कतार लग गयी थी। ऐसे में गड्ढे में वाहनों के फंसने व जाम की समस्या से जूझ रहे वाहन चालकों ने युवाओं की मदद से गड्ढे की मरम्मत का रास्ता निकाला। तथा चालकों ने बुधवार की सुबह खुद एक दूसरे चालक से रुपये इक्कठा कर स्थानीय युवाओं से मिलकर गड्ढे में ईंट गिराई और युवाओं के श्रम से आवागमन बहाल किया।

खबरें और भी हैं...