• Hindi News
  • Bihar
  • Saharsa
  • Saharsa News passenger train stopped at baijnathpur station for 24 hours after the track remained empty
विज्ञापन

ट्रैक खाली रहने के बाद भी सवा घंटे तक बैजनाथपुर स्टेशन पर रोकी गई पैसेंजर ट्रेन

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 05:05 AM IST

Saharsa News - सहरसा रेलवे स्टेशन और समस्तीपुर कंट्रोल में बैठे रेल कर्मियों की मनमानी के कारण रेल यात्रियों का आक्रोश बढ़ता जा...

Saharsa News - passenger train stopped at baijnathpur station for 24 hours after the track remained empty
  • comment
सहरसा रेलवे स्टेशन और समस्तीपुर कंट्रोल में बैठे रेल कर्मियों की मनमानी के कारण रेल यात्रियों का आक्रोश बढ़ता जा रहा है। इस कारण पहले पहले भी सहरसा स्टेशन पर तोड़-फोड़ अौर आगजनी की घटना हो चुकी है। रेल कर्मियों का यही आलम रहा तो कभी भी और बड़ी घटनाएं हो सकती है। सहरसा रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म खाली रहने के बावजूद मानसी व पूर्णिया से आने वाली ट्रेनों को घंटों सहरसा से सटे स्टेशन बैजनाथपुर और सोनबर्षा कचहरी में घंटों रोक कर रखा जाता है। दूर से आने वाले यात्रियों को सहरसा में बैठे रेलकर्मी ट्रेनों को घंटों रोक कर न सिर्फ मानसिक रूप से प्रताड़ित करते बल्कि इससे यात्रियों में आक्रोश है। दैनिक भास्कर संवाददाता ने शुक्रवार की रात 1:40 से 3 बजे तक सहरसा- बैजनाथपुर स्टेशन की पड़ताल की।

सुनसान स्टेशन पर कोई नहीं था जानकारी देने वाला

रात 1 बजकर 40 मिनट, पूर्णिया से सहरसा के लिए खुली पैसेंजर ट्रेन सं.55583 सहरसा से एक स्टेशन पहले बैजनाथपुर में आकर रूकती है। ा। ट्रेन में सवार यात्रियों को सुनसान स्टेशन पर कोई यह बताने वाला भी नहीं था कि इस पैसेंजर ट्रेन को सहरसा रेलवे स्टेशन पहुंचने से पहले क्यों रोक कर रखा गया है। इधर ट्रेन में सवार परेशान यात्रियों की मुश्किलें यह थी कि वे बार-बार बैजनाथपुर स्टेशन मास्टर के चैंबर में जाकर यह पूछते रहे कि ट्रेन को सहरसा के लिए क्यों नहीं खोली जा रही है। स्टेशन मास्टर का एक ही जबाब था लाइन क्लियर नहीं दिया जा रहा है। परेशान यात्रियों में कुछ ने मोबाइल पर सहरसा में अपने परिजन को यह सूचना दी उनकी ट्रेन बिना कारण के रूकी है।

सहरसा स्टेशन पर एएसएम का खाली चैंबर।

रात 2 बजे खाली पड़ा था सहरसा का एएसएम चैंबर

बैजनाथपुर स्टेशन पर खड़ी पैसेंजर ट्रेन में सवार परेशान यात्री की शिकायत पर जब उनके परिजन कारण पता करने सहरसा रेलवे स्टेशन पर 2:50 में पहुंचे तो वहां एएसएम का चैंबर खुला मिला लेकिन उसमें कोई रेल के पदाधिकारी मौजूद नहीं थे। दो महिलाएं बेंच पर बैठी मिली, जिसने बताया कि एएसएम आशित कुमार सिंह बगल में कहीं गए हैं।

एएसएम ने कहा कंट्रोल से पूछिए...

जब उनसे यह पूछा गया कि लाइट इंजन तो अभी आयी है पैसेंजर ट्रेन एक घंटा से बैजनाथपुर में खड़ी है पहले उसे क्यों नहीं प्लेटफार्म पर लिया गया। एएसएम ने कहा कि यह कंट्रोल से पूछिए...। कंट्रोल कह रहा है कि पहले लाइट इंजन मानसी से आएगा उसे मधेपुरा भेजना है। फिर सहरसा स्टेशन के प्लेटफार्म न. 3 पर लगी खाली मालगाड़ी के डिब्बे को यार्ड में लगाना है तब पैसेंजर ट्रेन रिसीव करेंगे। लाइट इंजन को भी मधेपुरा जाकर खाली पड़े मालगाड़ी के डिब्बों को लेकर बरौनी जाना था। इसके बाद मानसी तरफ से आई लाइट इंजन को सहरसा से मधेपुरा के लिए रवाना किया गया। बैजनाथपुर क्रॉस करने के बाद पैसेंजर ट्रेन को सहरसा स्टेशन के प्लेटफार्म 2 पर रात 3 बजकर 8 मिनट के करीब प्लेस किया गया। यात्रियों को सुविधा देने के नाम पर रेल कर्मियों ने यह हाल बना कर रखा है।

Saharsa News - passenger train stopped at baijnathpur station for 24 hours after the track remained empty
  • comment
X
Saharsa News - passenger train stopped at baijnathpur station for 24 hours after the track remained empty
Saharsa News - passenger train stopped at baijnathpur station for 24 hours after the track remained empty
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन