--Advertisement--

मामले के निपटारे के लिए सीओ का इंतजार करते रहे फरियादी

Saharsa News - हरेक शनिवार को सदर थाना में आयोजित होने वाली जनता दरबार पर लगातार ग्रहण लगा हुआ है। एक तरफ कहरा प्रखंड में स्थाई...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 04:57 AM IST
Saharsa News - waiting for co for settlement of matter
हरेक शनिवार को सदर थाना में आयोजित होने वाली जनता दरबार पर लगातार ग्रहण लगा हुआ है। एक तरफ कहरा प्रखंड में स्थाई अंचलाधिकारी नियुक्त नहीं है तो प्रतिनियुक्ति पर नवहट्टा के अंचलाधिकारी महीने में एक दो बार ही जनता दरबार आयोजित कर पाते हैं। शनिवार को भी अंचलाधिकारी परीक्षा के प्रतिनियोजन पर थे। जिसके कारण दर्जनों भूमि विवाद से पीड़ितों को निराशा ही हाथ लगी। घंटों इंतजार के बाद बिना कोई फैसले के ही वापस लौट जाना पड़ा। हालांकि उनमें से अधिकतर पूर्व के ही आवेदक थे। जिन्हें विरोधी पक्ष को नोटिस निर्गत करवाना था। कुछ मामलों में दोनों पक्ष के लोग अपने-अपने कागजात लेकर के भी पहुंचे थे। ऐसे में वे सुबह 10 बजे से दिन के 1 बजे तक अंचलाधिकारी के आने का इंतजार करते रहे। इस दौरान कहरा अंचल के अंचल इंस्पेक्टर अर्जुन पासवान मौजूद रहे। वहीं पुलिस के भी पदाधिकारी लगातार उनसे सीओ की आने के बारे में पूछते रहे। लेकिन अंततः 1 बजे दिन में अर्जुन पासवान ने अंचलाधिकारी को मोबाइल से जनता दरबार में आने की विषय में जानकारी हासिल की । इसके बाद उन्होंने बताया कि अंचलाधिकारी नहीं आने की बातें लोगों को बतायी। ऐसे में अब सभी आवेदक अगले सप्ताह जनता दरबार मेें पहुंचे।

मौके पर मौजूद कहरा अंचल के सीआई अर्जुन पासवान ने बताया कि वे सुबह 11 बजे से ही सदर थाना में बैठे हुए है। जनता दरबार में आए आवेदनों को देख रहे थे। अधिकतर मामले पुराने हैं। कुछ नए मामले आए थे। जिनका आवेदन उन्होंने ले लिया है। प्रभारी अंचलाधिकारी अबू अफसर और सदर थाना प्रभारी आर के सिंह दोनों ही अधिकारी परीक्षा ड्यूटी में लगे हुए हैं। ऐसे में उनका जनता दरबार में आना संभव नहीं है ।

सदर थाना के जनता दरबार में लगी भीड़।

भास्कर न्यूज | सहरसा

हरेक शनिवार को सदर थाना में आयोजित होने वाली जनता दरबार पर लगातार ग्रहण लगा हुआ है। एक तरफ कहरा प्रखंड में स्थाई अंचलाधिकारी नियुक्त नहीं है तो प्रतिनियुक्ति पर नवहट्टा के अंचलाधिकारी महीने में एक दो बार ही जनता दरबार आयोजित कर पाते हैं। शनिवार को भी अंचलाधिकारी परीक्षा के प्रतिनियोजन पर थे। जिसके कारण दर्जनों भूमि विवाद से पीड़ितों को निराशा ही हाथ लगी। घंटों इंतजार के बाद बिना कोई फैसले के ही वापस लौट जाना पड़ा। हालांकि उनमें से अधिकतर पूर्व के ही आवेदक थे। जिन्हें विरोधी पक्ष को नोटिस निर्गत करवाना था। कुछ मामलों में दोनों पक्ष के लोग अपने-अपने कागजात लेकर के भी पहुंचे थे। ऐसे में वे सुबह 10 बजे से दिन के 1 बजे तक अंचलाधिकारी के आने का इंतजार करते रहे। इस दौरान कहरा अंचल के अंचल इंस्पेक्टर अर्जुन पासवान मौजूद रहे। वहीं पुलिस के भी पदाधिकारी लगातार उनसे सीओ की आने के बारे में पूछते रहे। लेकिन अंततः 1 बजे दिन में अर्जुन पासवान ने अंचलाधिकारी को मोबाइल से जनता दरबार में आने की विषय में जानकारी हासिल की । इसके बाद उन्होंने बताया कि अंचलाधिकारी नहीं आने की बातें लोगों को बतायी। ऐसे में अब सभी आवेदक अगले सप्ताह जनता दरबार मेें पहुंचे।

मौके पर मौजूद कहरा अंचल के सीआई अर्जुन पासवान ने बताया कि वे सुबह 11 बजे से ही सदर थाना में बैठे हुए है। जनता दरबार में आए आवेदनों को देख रहे थे। अधिकतर मामले पुराने हैं। कुछ नए मामले आए थे। जिनका आवेदन उन्होंने ले लिया है। प्रभारी अंचलाधिकारी अबू अफसर और सदर थाना प्रभारी आर के सिंह दोनों ही अधिकारी परीक्षा ड्यूटी में लगे हुए हैं। ऐसे में उनका जनता दरबार में आना संभव नहीं है ।

भास्कर न्यूज | सहरसा

हरेक शनिवार को सदर थाना में आयोजित होने वाली जनता दरबार पर लगातार ग्रहण लगा हुआ है। एक तरफ कहरा प्रखंड में स्थाई अंचलाधिकारी नियुक्त नहीं है तो प्रतिनियुक्ति पर नवहट्टा के अंचलाधिकारी महीने में एक दो बार ही जनता दरबार आयोजित कर पाते हैं। शनिवार को भी अंचलाधिकारी परीक्षा के प्रतिनियोजन पर थे। जिसके कारण दर्जनों भूमि विवाद से पीड़ितों को निराशा ही हाथ लगी। घंटों इंतजार के बाद बिना कोई फैसले के ही वापस लौट जाना पड़ा। हालांकि उनमें से अधिकतर पूर्व के ही आवेदक थे। जिन्हें विरोधी पक्ष को नोटिस निर्गत करवाना था। कुछ मामलों में दोनों पक्ष के लोग अपने-अपने कागजात लेकर के भी पहुंचे थे। ऐसे में वे सुबह 10 बजे से दिन के 1 बजे तक अंचलाधिकारी के आने का इंतजार करते रहे। इस दौरान कहरा अंचल के अंचल इंस्पेक्टर अर्जुन पासवान मौजूद रहे। वहीं पुलिस के भी पदाधिकारी लगातार उनसे सीओ की आने के बारे में पूछते रहे। लेकिन अंततः 1 बजे दिन में अर्जुन पासवान ने अंचलाधिकारी को मोबाइल से जनता दरबार में आने की विषय में जानकारी हासिल की । इसके बाद उन्होंने बताया कि अंचलाधिकारी नहीं आने की बातें लोगों को बतायी। ऐसे में अब सभी आवेदक अगले सप्ताह जनता दरबार मेें पहुंचे।

मौके पर मौजूद कहरा अंचल के सीआई अर्जुन पासवान ने बताया कि वे सुबह 11 बजे से ही सदर थाना में बैठे हुए है। जनता दरबार में आए आवेदनों को देख रहे थे। अधिकतर मामले पुराने हैं। कुछ नए मामले आए थे। जिनका आवेदन उन्होंने ले लिया है। प्रभारी अंचलाधिकारी अबू अफसर और सदर थाना प्रभारी आर के सिंह दोनों ही अधिकारी परीक्षा ड्यूटी में लगे हुए हैं। ऐसे में उनका जनता दरबार में आना संभव नहीं है ।

मोटर दुर्घटना दावा न्यायाधिकरण ने राष्ट्रीय लोक अदालत में किया वादों का निष्पादन

सहरसा | राष्ट्रीय लोक अदालत के मोटर दुर्घटना दावा न्यायाधिकरण सौर बाजार प्रखंड के भेलवा गांव निवासी चंदन कुमार की प|ी मुन्नी कुमारी को 18 लाख रुपये के बाद का निष्पादन किया गया। मुन्नी कुमारी मोटरव्हीकल केस बाद कांड संख्या 1/17 जिसमें शिक्षक चंदन कुमार सहरसा से कार्यालय कार्य निपटा कर अपने घर जा रहे थे। जिस दर्मियान ट्रक द्वारा ठोकर मार देने से उनकी मौत हो गई थी। एडीजे प्रथम चंद्र मोहन झा, ओरिएंटल इंश्योरेंस मैनेजर सत्य शील,आवेदिका के अधिवक्ता इरशाद आलम, संजय कुमार सिंह ने मुन्नी कुमारी को 50 हजार का चेक दिया।

दुर्घटना बीमा राशि का मिलेगा चार लाख | सूरज कुमार की मां फूल कुमारी देवी को दुर्घटना बीमा राशि चार लाख रुपया दिया जाएगा। बिहरा थाना क्षेत्र के बिहरा गांव निवासी राम शंकर पासवान के पुत्र सूरज कुमार का बेंगहा के पास बस दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी। जिसमें आवेदिका फूल कुमारी देवी को 60 दिनों में बीमा दुर्घटना राशि के चार लाख की राशि दिया जाएगा।

X
Saharsa News - waiting for co for settlement of matter
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..