पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Saharsa News Yatra Nari Poojyante Ramayante Tatra Deity Ie Where The Lady Is Worshiped While Living There

यत्र नारी पूज्यंते रमयंते तत्र देवता यानि जहां नारी की पूजा होती वहीं रहते देवता

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

राजेंद्र मिश्र महाविद्यालय सभागार में शनिवार को महिला दिवस के अवसर पर एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। उद्घाटन महाविद्यालय प्रधानाचार्य डॉ अनिल कांत मिश्र ने किया। कार्यक्रम को संबोधित करते प्रधानाचार्य डा मिश्र ने कहा कि हमारी संस्कृति में पहले से ही मान्यता रही है कि यत्र नारी पूज्यंते रमयंते तत्र देवता। हमारे समाज में नारी को शक्ति का रूप कहा जाता है। आज नारी का योगदान हर क्षेत्र में है। जहां नारी की पूजा होती है वहीं देवता का निवास होता है।

लड़कियों को सशक्त होकर इसका लाभ लेना चाहिए । डॉ ललित नारायण मिश्र ने महिला को समाज का पहला पाठशाला बताते नारी सशक्तिकरण पर बल दिया। मंच संचालन डॉ कविता कुमारी ने किया। मौके पर प्रो अमरनाथ चौधरी, डॉ अविनाश कुमार, प्रो पीसी पाठक, रेवती रमण झा, अमित कुमार, डॉ अश्वनी कुमार झा, डॉ अमानुल्लाह खान, डॉ अरुण कुमार झा, डॉ डीके चौधरी, डॉ र|ेश्वर झा, डॉ डेजी कुमारी, डॉ रेणु सिंह, आलोक कुमार, अंजनी कुमारी ने अपने विचार रखे। बीसीए की छात्रा दिव्या ने भ्रूण हत्या पर काव्य पाठ किया।

हर क्षेत्र में पुरुष से आगे बढ़कर काम करना चाहती हंै महिलाएं

महिलाएं पुरुष की अपेक्षा अधिक सबल होती है। आज महिला हर क्षेत्र में अपना परचम लहरा रही है। समाज में धीरे-धीरे महिला और पुरुष का भेदभाव भी समाप्त हो गया है।
-सोनिया ढनढनियां, बीडीओ


सरकारी पद और जनप्रतिनिधि में महिला लहरा रही परचम


सौरबाजार | महिला हर क्षेत्र में पुरुष से एक कदम आगे बढकर काम कर रही हैं चाहे वह प्रशासनिक अधिकारी हो या जनप्रतिनिधि हर काम में वे आगे निकल रही हैं। सरकार का भी योगदान महिलाओं को आगे बढाने में काफी अहम है। प्रखंड प्रशासन की बात करें तो प्रखंड के सबसे शीर्ष पदाधिकारी बीडीओ पद को महिला हीं सुशोभित कर रही है।

प्रखंड और अंचल कार्यालय के प्रधान लिपिक पद पर भी महिला कार्यरत हैं। जनप्रतिनिधि के रूप में सौरबाजार प्रखंड के प्रखंड प्रमुख और दो जिला परिषद सदस्य पद पर महिलाओं का कब्जा है। उत्तरी भाग की जिप सदस्या अरहूल देवी जिप अध्यक्षा पद को सुशोभित कर रही है। प्रखंड के 17 पंचायत में 8 पंचायतों में मुखिया और ग्राम कचहरी सरपंच पद पर महिलाओं का कब्जा है। कुल मिलाकर सौरबाजार प्रखंड में अधिकारी और जनप्रतिनिधि के रूप में महिलाओं का दबदवा कायम है।

महिलाअाें काे अागे बढ़ाने में सरकार का बहुत बड़ा योगदान

तनुजा कुमारी, मधुलता कुमारी और पल्लवी कुमारी कहती है कि महिला को आगे बढ़ाने में सरकार का बहुत बड़ा योगदान है। नादो पंचायत की मुखिया शांति देवी, सहुरिया पश्चिमी की मुखिया वीणा कुमारी, कढैया की मुखिया रीणा देवी, सुहथ की मुखिया सुनीता देवी, चन्दौर पूर्वी की मुखिया नूतन कुमारी,अजगेबा की मुखिया डेजी देवी,सौरबाजार की मुखिया रेणु देवी, गम्हरिया पंचायत की मुखिया सुनीता देवी कहती है कि महिला को आगे बढ़ाने में सरकार धन्यवाद के पात्र हैं।

अब महिला हर काम में हाथ बटाकर पुरुष के बराबरी का हिस्सा ले रही है। दक्षिणी भाग की जिप सदस्या तीला देवी कहती है कि सरकारी सेवा से लेकर नीजी क्षेत्र और व्यापार में भी महिला आगे निकल रही है।
-अरहूल देवी, जिप अध्यक्षा


अब हर क्षेत्र में महिला आत्मनिर्भर बन रही है। वह किसी भी क्षेत्र में पुरुष से आगे बढ़कर काम करना चाहती है।
-नजमुन निशा, प्रखंड प्रमुख


आरएम कॉलेज में महिला दिवस को लेकर आयोजित गोष्ठी में शामिल लोग।
खबरें और भी हैं...