• Hindi News
  • Bihar
  • Samstipur
  • Samastipur News along with moral and technical education sex education is also necessary only then people will be able to differentiate between right and wrong

नैतिक व तकनीकी शिक्षा के साथ यौन शिक्षा भी जरूरी, तभी लोग सही-गलत का फर्क कर पाएंगे

Samstipur News - पोर्न साइट्स पर प्रतिबंध को लेकर दैनिक भास्कर की ओर से शुरू किए गए अभियान को लोगों का काफी समर्थन मिल रहा है।...

Feb 15, 2020, 09:46 AM IST
Samastipur News - along with moral and technical education sex education is also necessary only then people will be able to differentiate between right and wrong

पोर्न साइट्स पर प्रतिबंध को लेकर दैनिक भास्कर की ओर से शुरू किए गए अभियान को लोगों का काफी समर्थन मिल रहा है। शुक्रवार को इस अभियान से जुड़ते हुए मौलाना मजहरुल हक़ टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज, मथुरापुर के प्रोफेसरों ने एक स्वर से पोर्न साइट्स का विरोध किया। शिक्षाविदों ने कहा कि किसी भी क्षेत्र में पहले जानकारी की जरूरत होती है। तभी हम उस क्षेत्र में सही गलत में फर्क कर पाएंगे। बदलते जमाने में तकनीकी शिक्षा के साथ-साथ नैतिक व यौन शिक्षा जरूरी है। तभी युवा सही व गलत की पहचान कर पाएंगे। शिक्षा के अभाव में सही प गलत का पहचान नहीं कर भटक कर गलत मार्ग पर चल पड़ते हैं। शिक्षाविदों ने पोर्न साइट्स पर चर्चा करते हुए कहा कि भारतीय सभ्यता व संस्कृति पर्दा प्रथा वाली रही है। सदियों से हम पर्दा में रहकर हर कार्य करते आ रहे हैं। पश्चिमी सभ्यता का कुप्रभाव भारतीय संस्कृति और समाज के लोगों पर पड़ रहा है। हमारा नैतिक पतन तेजी से हो रहा है। सरकार पोर्न साइट्स बंद करने के लिए कानून तो बनाए साथ ही हम सब खुद इस साइट्स का विरोध करें। साइट्स को क्लिक ही नहीं करें। संवाद के दौरान प्रो अशोक कुमार अकेला, प्रो इन्तेखाब आलम खान, प्रो किंशु कुमारी, डॉ रंजीता, प्रो सेराज अहमद, प्रो मो तारिक अनवर, प्रो रंजना कुमारी, प्रो प्रियंका कुमारी, प्रो विनीत कुमार पोद्दार, मिर्ज़ा काशिफ बेग आदि ने भी अपना -अपना विचार रखा।

पोर्न साइट्स को सरकार सेंसर करे : प्रो. फातमा


पाेर्न साइट्स के कारण दुष्कर्म व यौन शोषण की बढ़ रही घटना : अबू सईद


कॉलेज के सचिव मो. अबू सईद ने संवाद के दौरान कहा कि पाेर्न साइट्स के कारण भारतीय सभ्यता व संस्कृति पर असर पर रहा है।

इसके कारण दुष्कर्म व यौन शोषण की घटनाएं बढ़ रही है।

आप इस तरह अभियान से जुड़ सकते हैं

बच्चों-युवाओं को विकृति से बचाने के लिए पोर्न साइट्स पर पाबंदी हर हाल में जरूरी है। अभियान को आप इस तरह अपना समर्थन दे सकते हैं...

बच्चों के साथ दोस्ताना व्यवहार रखें अभिभावक, खुलकर बात करें : प्रो. राय


परिवार से लेकर सामाजिक व शिक्षण संस्थान स्तर पर हो बहस: डाॅ. यादव


इस अभियान को गंभीरता से लेने की जरूरत

है। परिवार से लेकर सामाजिक और श

िक्षण संस्थान स्तर पर इस विषय पर

बहस हो।

आयोजित संवाद में मौलाना मजहरुल हक टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज के प्रोफेसर व अन्य।

आप हमारे फेसबुक पेज के माध्यम
से भी इस अभियान से जुड़ सकते हैं।

वेबसाइट और भास्कर App पर दिए गए लिंक पर क्लिक करके भी आप समर्थन दे सकते हैं।

मिस्ड कॉल कर अभियान से जुड़ सकते हैं।

91900 00074

X
Samastipur News - along with moral and technical education sex education is also necessary only then people will be able to differentiate between right and wrong
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना