• Hindi News
  • Bihar
  • Samstipur
  • Samastipur News even after online it is time to wait for months to come 27391 general and 2766 special cases pending

ऑनलाइन होने के बाद भी दाखिल-खारिज के लिए करना पड़ रहा है महीनों इंतजार, 27391 सामान्य व 2766 विशेष मामले पड़े हैं लंबित

Samstipur News - म्यूटेशन यानी दाखिल-खारिज के ऑनलाइन होने के बाद भी इसको लेकर लोगों की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं। जिले की...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 09:00 AM IST
Samastipur News - even after online it is time to wait for months to come 27391 general and 2766 special cases pending
म्यूटेशन यानी दाखिल-खारिज के ऑनलाइन होने के बाद भी इसको लेकर लोगों की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं। जिले की सभी जमाबंदी को ऑनलाइन करने के बाद से म्यूटेशन का काम भी ऑनलाइन ही शुरू कराया गया था। जिसमें दाखिल-खारिज के सामान्य मामलों यानी बिना किसी विवाद वाले मामलों का 18 दिन व विवादित मामलों का 60 दिन के अंदर समाधान कर ऑनलाइन प्रक्रिया पूरी करनी थी। मगर वर्तमान में स्थिति यह है कि 18 दिन में निपटाए जाने वाले 27391 सामान्य मामले लंबित पड़े हैं। वहीं इनकी संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है।

विवादित मामलोें की संख्या भी अब बढ़कर 2766 तक पहुंची

दूसरी ओर विवादित मामलोें की संख्या भी 2766 तक पहुंच गई है जिसे समाप्त तो 60 दिन के अंदर करना था मगर कई मामलों के 1 वर्ष से ज्यादा बीत चुके हैं। बताया जाता है कि सीओ व कर्मचारी के स्तर से लापरवाही के कारण ऑनलाइन दाखिल-खारिज के मामलों की संख्या बढ़ती जा रही है। इससे जहां अंचलों के ऊपर केस बढ़ता जा रहा है वहीं, लोगों की परेशानी भी बढ़ रही है। जिला प्रशासन की ओर से हर बैठक में अधिकारियों को इसको लेकर हिदायत भर दिया जाता है, जिससे इस मामले अधिकारियों की शिथिलता बरकरार है।

54960 मामलों में से सिर्फ 14397 मामलों का ही हुआ निपटारा, 34862 फाइल अधर में

बताया जाता है कि दिसंबर 2017 में ऑनलाइन म्यूटेशन की शुरूआत होने के बाद से अभी तक जिले में दाखिल-खारिज के 54960 ऑनलाइन मामले आए हैं। जिसमें से केवल 14397 का ही निपटारा किया जा सका है। जबकि 34862 मामले अंचलों में लंबित पड़े हैं।

5701 मामलों को कर दिया गया है रिजेक्ट

ऑनलाइन दाखिल-खारिज के 5701 मामलों को रिजेक्ट कर दिया गया है। जानकारों का बताना है कि जिन मामलों को 18 या 60 दिन के अंदर निपटारा नहीं होता है उसे अधिकारियों की फटकार से बचने के लिए रिजेक्ट कर दिया जाता है। वहीं लोगों की परेशानी बनी रहती है।

म्यूटेशन के पांच ज्यादा पेंडिंग वाले अंचल

कल्याणपुर 4665

समस्तीपुर सदर 3436

पटोरी 2735

शिवाजीनगर 2511

उजियारपुर 2300

ऑनलाइन प्रक्रिया के लिए आम लोगों व विभाग को होना होगा तैयार


18 दिनों में समाधान वाले पेंडिंग मामले

कल्याणपुर 4098

समस्तीपुर सदर 2853

पटोरी 2167

उजियारपुर 2028

शिवाजी नगर 2024

सामान्य मामलों का 18 और विशेष मामलों का 60 दिन के अंदर करना है समाधान

विवादित मामले जिसे 60 दिन में निपटाना था

मोरवा 536

विद्यापतिनगर 380

पटोरी 305

मोहिउद्दीननगर 301

सिंघिया 226

X
Samastipur News - even after online it is time to wait for months to come 27391 general and 2766 special cases pending
COMMENT