• Hindi News
  • Rajya
  • Bihar
  • Samstipur
  • Dalsinghsarai News execution of one in the case of 12 land disputes in the janata durbar the next date given for the other 11 cases

जनता दरबार में 12 भूमि विवाद के मामले में एक का हुआ निष्पादन, अन्य 11 मामले के लिए दी गई अगली तारीख

Samstipur News - स्थानीय थाना परिसर में शनिवार को सरकार के निर्देश के आलोक में जमीन से संबंधित मामलों के निष्पादन को लेकर जनता...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 07:11 AM IST
Dalsinghsarai News - execution of one in the case of 12 land disputes in the janata durbar the next date given for the other 11 cases
स्थानीय थाना परिसर में शनिवार को सरकार के निर्देश के आलोक में जमीन से संबंधित मामलों के निष्पादन को लेकर जनता दरबार का आयोजन किया गया। मौके पर सीआई शिवकांत झा व अंचल लिपिक राम कुमार कर्ण ने संयुक्त रूप से विभिन्न पंचायत से भूमि विवाद से संबंधित आये हुए 12 फरियादियों की समस्या सुनते हुए कागजात की जांच की। इस दौरान लोकनाथपुर के उमाशंकर पोद्दार, भटगामा के शंकर सहनी व लड्डूलाल राय, भगवानपुर चकशेखु के अमित कुमार सोनी व गोपाल प्रसाद, कमरांव के शिव कुमार झा, पगड़ा के विश्वनाथ साह व विजय साह, कमरांव के शंभू शरण सिंह व रतनदीप सिंह, जनकपुर की कुमारी अंजू सिन्हा व बबिता देवी, भगवानपुर चकशेखु के मनोज कुमार सुरेका व रमेश बंका, कोनैला के कैलाश साह व सुरेश झा, नवादा के अनूप कुमार गुप्ता व अजित कुमार, गोसपुर की सुनैना देवी व भुल्ला दास और बुलाकिपुर के मुर्शीद आलम व यात्री सहनी के मामलाें में दोनों पक्ष से पहुंचे लोगों की बात सुनते हुए कागजात की जांच की गई। वहीं पगड़ा के विश्वनाथ साह व विजय साह के मामले का न्यायालय में टाइटिल चलने की वजह से निष्पादन किया गया। वहीं बाकी बचे 11 मामले में सभी को अगली तिथि पर आने को कहा गया। वहीं पगड़ा से नागो महतो ने नया आवेदन जमा कराया। मौके पर दारोगा अंजार अहमद खान, संतोष कुमार, फुलेना यादव, रंधीर कुमार झा, प्रदीप कुमार राम सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

थाना पर जनता दरबार में फरियादी से पक्ष सुनते अधिकारी।

इधर, भूमि विवाद से मोरवा के लोग हैं परेशान

भास्कर न्यूज | मोरवा

भूमि विवाद संबंधित घटने वाले रोजाना की घटनाओं से संपूर्ण मोरवा प्रखंड के लोग कापी परेशान हैं। ओपी हलई व ताजपुर थाना परिसर में प्रत्येक सप्ताह भूमि विवाद से संबंधित प्रखंड के कम से कम आधे दर्जन मामले निश्चित रूप से निपटाए जाते हैं। इसके बावजूद भूमि विवाद को लेकर होने वाली मारपीट व स्थानीय स्तर पर पंचायत से लेकर थाने में प्राथमिकी तक की घटनाओं में किसी भी प्रकार की कोई कमी नहीं आ रही है। प्रखंड का कोई भी ऐसा पंचायत नहीं है जहां कम से कम आधे दर्जन भूमि विवाद के मामले नहीं चल रहे हैं। यह भूमि विवाद हिंसा का रूप लेता जा रहा है। प्रखंड अंतर्गत चार पुलिस थाने, हलईओपी, ताजपुर , मुसरीघरारी व पटोरी थाना में कम से कम 50 से अधिक भूमि विवाद संबंधित मारपीट के मामले दर्ज कराए जा चुके हैं। हलई ओपी क्षेत्र के दरबा पंचायत में तो भूमि विवाद के मामले में कई लोगों की अब तक जानें जा चुकी है। यूं तो मोरवा प्रखंड के कुल 18 पंचायतों में भूमि विवाद संबंधित सैकड़ों मामले चल रहे हैं। लेकिन सारंगपुर पश्चिमी पंचायत भूमि विवाद के कारण कई वर्षों से बदनाम है। इस पंचायत में कई सार्वजनिक संस्थानों के जमीन को स्थानीय लोगों द्वारा किसी न किसी प्रकार से कब्जा कर लिया गया है। वहीं संत विनोबा भावे के भूदान आंदोलन में दी गई जमीन को लेकर पिछले कई वर्षों से यह पंचायत के लोग परेशान हैं। भूदान में प्राप्त करने वाले गरीबों के वंशजों द्वारा जहां दान प्राप्त जमीन के कागजात ऊपर करके भूदान से संबंधित दान दी गई जमीन जिसे वर्षों से स्थानीय लोग जोत रहे थे। उसे जबरन कब्जा कर लिया गया है।

X
Dalsinghsarai News - execution of one in the case of 12 land disputes in the janata durbar the next date given for the other 11 cases
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना