संतमत के अनुसरण से अशांति के निदान उपाय : रुदल

Samstipur News - हसनपुर | इस संसार में व्याप्त अशांति के निदान का एकमात्र उपाय संतमत का अनुसरण करना है। बिना संतमत के अनुसरण किए हुए...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:45 AM IST
Hasanpur News - the solution to the disturbance by following the saint rudal
हसनपुर | इस संसार में व्याप्त अशांति के निदान का एकमात्र उपाय संतमत का अनुसरण करना है। बिना संतमत के अनुसरण किए हुए अशांति की जगह शांति स्थापित नहीं किया जा सकता। ये बातें महर्षि मेंही आश्रम के संस्थापक स्वामी रुदल बाबा ने कही। वे शुक्रवार को प्रखंड के मल्हीपुर स्थित मेंही आश्रम में 135वें महर्षि मेंही जयंती के अवसर पर आयोजित प्रवचन कार्यक्रम में उपस्थित श्रद्धालुओं को संतमत के मुख्य तथ्यों का श्रवण करा रहे थे। उपस्थित श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए स्वामी ने कहा कि आज तमाम धर्म, सम्प्रदाय व जातिवादियों के बीच उत्पन्न संघर्ष का कारण अध्यात्म के मूल भावनाओं से भटकना ही है। संतमत इन्हीं भेदों को मिटाकर एक व्यष्टि भाव को समष्टि भाव में रुपांतरण की कला सिखलाती है। जहां विश्वात्मा का एक स्वभाविक जागरण हो जाता है। उन्होंने कहा कि जहां भेद है वहीं अशांति है। भेदों को मिटाकर विश्वात्मा की भाव को समझने की कला का नाम ही संतमत है। तमाम संतो के बीच यदि बाहरी बातों को हटाकर सोचा जाए तो सभी संतो का एक ही मत है। वहीं श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए डाॅ. राम कुमार यादव ने कहा कि महर्षि मेंही जैसे संतों का जन्म एक आध्यात्मिक सूर्य के उदय के समान है। समय-समय पर ऐसे संतों का जन्म होता ही रहता है। इस कारण से ही मानव जीवन का उद्धार व कल्याण संभव हो पाता है। इस दौरान स्वामी राजेंद्र बाबा ने उपस्थित श्रद्धालुओं को अपने प्रवचन के माध्यम से संतो के महत्व के बारे में समझाया। इस मौके पर मुरारी बाबा, देव नारायण पासवान, गंगा विष्णु पासवान, राम चंद्र यादव, रामाधार यादव, बालेश्वर यादव,अशोक चौधरी, अभिषेक गुप्ता, श्री गुरमैता, लीला भिंडवार, सुधा कुमारी, मालती देवी, रीता देवी, रानी देवी, गुड़िया कुमारी, राम नारायण साह, मयंक कुमार, अमन कुमार, सोनू कुमार, आदित्य राज, विजय भारतीय, नीरज कुमार आदि श्रद्धालु सक्रिय थे।

X
Hasanpur News - the solution to the disturbance by following the saint rudal
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना