ऑनलाइन होगा वाहनों का प्रदूषण जांच का ब्योरा

Sasaram News - मनमाना पैसा लिया और बिना वाहन जांच किए ही प्रदूषण प्रमाणपत्र जारी कर दिए जानेवालों प्रदूषण जांच केंद्रों की...

Bhaskar News Network

Mar 17, 2019, 05:11 AM IST
Sasaram News - details of pollution test of vehicles will be online
मनमाना पैसा लिया और बिना वाहन जांच किए ही प्रदूषण प्रमाणपत्र जारी कर दिए जानेवालों प्रदूषण जांच केंद्रों की मनमानी अब ज्यादा दिन नहीं चलने वाली है। अब इसके लिए परिवहन मंत्रालय द्वारा वाहनों की प्रदूषण जांच के लिए एनआईसी का पोर्टल तैयार किया जा रहा है। प्रदूषण केंद्रों की ऑनलाइन निगरानी के लिए पायलट प्रोजेक्ट योजना मई माह के अंत तक शुरू होने का संभावना है। सबसे पहले ट्रायल रन के तहत सभी प्रदूषण केंद्रों को पोर्टल से जोड़ दिया जाएगा। इन प्रदूषण केंद्रों पर विभाग की सीधी नजर रहेगी। महकमे के पास समूचा डाटा एकत्र रहेगा, जो माउस की एक क्लिक से बता देगा कि किस गाड़ी का प्रदूषण प्रमाणपत्र कब जारी हुआ और उसकी वैधता अवधि कब तक है। अभी तक जिले में मात्र दो प्रदूषण जांच केंद्र संचालित हैं। इन्हें चलाने के लिए परिवहन विभाग अनुमति तो देता है, लेकिन कोई ठोस नियम नहीं होने के कारण इन पर अफसरों का प्रभावी नियंत्रण नहीं रहता है। लिहाजा प्रदूषण जांच केंद्रों पर वाहन स्वामियों से मनमानी वसूली की जाती है। जिला परिवहन पदाधिकारी मोहम्मद जिआउल्लाह ने बताया परिवहन मंत्रालय ने जिलों में स्थित सभी प्रदूषण जांच केंद्रों को सिंगिल प्लेटफार्म पर लाए जाने की एक महत्वपूर्ण पहल की शुरुआत की है, जो मई माह के आखिरी तक शुरू हो जाने की उम्मीद है।

प्रदूषण जांच केंद्र का लाेगाे

अजीत कुमार सिंह | सासाराम

मनमाना पैसा लिया और बिना वाहन जांच किए ही प्रदूषण प्रमाणपत्र जारी कर दिए जानेवालों प्रदूषण जांच केंद्रों की मनमानी अब ज्यादा दिन नहीं चलने वाली है। अब इसके लिए परिवहन मंत्रालय द्वारा वाहनों की प्रदूषण जांच के लिए एनआईसी का पोर्टल तैयार किया जा रहा है। प्रदूषण केंद्रों की ऑनलाइन निगरानी के लिए पायलट प्रोजेक्ट योजना मई माह के अंत तक शुरू होने का संभावना है। सबसे पहले ट्रायल रन के तहत सभी प्रदूषण केंद्रों को पोर्टल से जोड़ दिया जाएगा। इन प्रदूषण केंद्रों पर विभाग की सीधी नजर रहेगी। महकमे के पास समूचा डाटा एकत्र रहेगा, जो माउस की एक क्लिक से बता देगा कि किस गाड़ी का प्रदूषण प्रमाणपत्र कब जारी हुआ और उसकी वैधता अवधि कब तक है। अभी तक जिले में मात्र दो प्रदूषण जांच केंद्र संचालित हैं। इन्हें चलाने के लिए परिवहन विभाग अनुमति तो देता है, लेकिन कोई ठोस नियम नहीं होने के कारण इन पर अफसरों का प्रभावी नियंत्रण नहीं रहता है। लिहाजा प्रदूषण जांच केंद्रों पर वाहन स्वामियों से मनमानी वसूली की जाती है। जिला परिवहन पदाधिकारी मोहम्मद जिआउल्लाह ने बताया परिवहन मंत्रालय ने जिलों में स्थित सभी प्रदूषण जांच केंद्रों को सिंगिल प्लेटफार्म पर लाए जाने की एक महत्वपूर्ण पहल की शुरुआत की है, जो मई माह के आखिरी तक शुरू हो जाने की उम्मीद है।

प्रदूषण मानक में पास होने पर ही मिलेगा प्रमाणपत्र

जांच कराने के लिए वाहन को प्रदूषण केंद्र ले जाना होगा। जैसे ही वाहन प्रदूषण की जांच प्रक्रिया शुरू होगी, पूरी व्यवस्था ऑनलाइन पोर्टल से जुड़ जायेगी। प्रदूषण केंद्र समेत पोर्टल पर वाहन के नंबर नजर आने लगेगा। वाहन में किस स्तर का प्रदूषण पाया गया है पूरा डाटा सामने होगा। प्रदूषण मानक के अनुरूप मिला तो वाहन पास हो जाएगा और उसका प्रमाणपत्र जारी हो जाएगा।

X
Sasaram News - details of pollution test of vehicles will be online
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना