खराब जीवनशैली के कारण अब किशोर भी होने लगे हैं हाइपोटेंशन का शिकार

Sasaram News - तेजी से बदलते जीवनशैली से हाइपरटेंशन से ग्रसित होने वाले लोगों में तेजी से इजाफा हुआ है। हाइपोटेंशन को सामान्य...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 09:21 AM IST
Sasaram News - due to poor lifestyle now teenagers are becoming victims of hypotension
तेजी से बदलते जीवनशैली से हाइपरटेंशन से ग्रसित होने वाले लोगों में तेजी से इजाफा हुआ है। हाइपोटेंशन को सामान्य भाषा में उच्च रक्तचाप भी कहा जाता है। यह दो प्रकार का होता है। पहला एस्सेनशिअल हाइपरटेंशन जो मूलतः अनुवांशिक, अधिक उम्र होने पर, अत्यधिक नमक का सेवन तथा लचर एवं लापरवाह जीवनशैली के कारण होता है। दूसरा सेकेंडरी हाइपरटेंशन जो उच्च रक्तचाप का सीधा कारण चिन्हित हो जाये उस स्थिति को सेकेंडरी हाइपरटेंशन कहते हैं। यह गुर्दा रोग के मरीजों तथा गर्भ निरोधक गोलियों का सेवन करने वाली महिलाओं में अधिक देखा जाता है। सिविल सर्जन डा.जनार्दन शर्मा ने बताया कि हाइपरटेंशन यानि उच्च रक्तचाप से बचाव के लिए प्रत्येक वर्ष 17 मई को विश्व हाइपरटेंशन दिवस मनाया जाता है। खराब जीवनशैली के कारण धीरे-धीरे किशोर एवं युवक भी इस गंभीर समस्या से पीड़ित हो रहे हैं। इसलिए बिगड़ती जीवनशैली को ठीक करना बहुत जरुरी है।

X
Sasaram News - due to poor lifestyle now teenagers are becoming victims of hypotension
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना