साइंस की बजाय सात कॉलेजों ने ले लिया कॉमर्स के छात्रों का एडमिशन

Sasaram News - विश्वविद्यालय नियमावली के अनुसार बीसीए में सिर्फ साइंस के छात्रों का नामांकन करना था। रोहतास के सात कॉलेजों में...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 09:05 AM IST
Sasaram News - instead of science seven colleges took admission of commerce students
विश्वविद्यालय नियमावली के अनुसार बीसीए में सिर्फ साइंस के छात्रों का नामांकन करना था। रोहतास के सात कॉलेजों में कॉमर्स के 50 से ज्यादा छात्रों का कर लिया गया है नामांकन। जिसके कारण अब इन छात्रों का ना तो रजिस्ट्रेशन हो पा रहा है, ना हीं पढ़ाई सुचारू ढंग से चल रही। जिसको लेकर शनिवार को प्रभावित छात्रों ने वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के नोडल सेंटर एसपी जैन कॉलेज गेट पर धरना प्रदर्शन किया। पूरे एक साल का कैरियर दाव पर लगते देख रोहतास जिले के एसपी जैन, शेरशाह, जवाहर लाल नेहरू कॉलेज डेहरी, एसएन कॉलेज शाहमल खैरा देव, अंजबित सिंह कॉलेज बिक्रमगंज, आरएस कॉलेज तिलौथू एवं सीसीएस कॉलेज राजपुर के छात्रों ने नोडल कार्यालय के सामने अपने भविष्य के ऊपर प्रश्न चिन्ह लगते देख बड़े आंदोलन की चेतावनी भी दी। छात्रों का नेतृत्व कर रहे एसपी कॉलेज के छात्र संघ अध्यक्ष प्रमोद यादव ने बताया कि सलोनी कुमारी, आंचल कुमारी, श्वेता कुमारी, कुंदन कुमार सिंह, अंकित कुमार, रोहित कुमार, शनि राज , प्रशांत कुमार, अभिराज, आदित्य कुमार, जुनैद खान आदि दर्जनों छात्रों का भविष्य कॉलेज प्रबंधनों के लापरवाही के कारण अधर में लटका हुआ है। जिनकी एक लाख की पढ़ाई पूरी हो चुकी है। कॉलेज में दो समेस्टर की स्थानीय स्तर पर परीक्षाएं ली जा चुकी हैं।

सासाराम एसपी जैन कॉलेज में रजिस्ट्रेशन से वंचित 17 छात्रों ने दिया धरना

एसपी जैन कॉलेज गेट पर धरना देते बीसीए के छात्र।

क्या है मामला

रोहतास के वीरकुंवर सिंह विश्वविद्यालय से जुड़े सात कॉलेजों में बीसीए की पढ़ाई होती है। जहां सत्र 2018 से 2021 के लिए कराए गए नामांकन में इस तरह की गड़बड़ी सामने आई है। विश्वविद्यालय के नियमावली के अनुसार बीसीए में उन्हीं छात्रों का नामांकन होगा जाे गणित विषय से बारहवीं पास किए हैं। इसके विपरीत अधिकांश कॉलेजों में गणित के साथ-साथ कॉमर्स के छात्रों का भी नामांकन ले लिया गया। जिसके बाद इन छात्रों का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए इस वर्ष कॉलेज प्रबंधन आवेदन विश्वविद्यालय भेजे। वहां से उन आवेदनों को लौटा दिया गया। जो छात्र कॉमर्स से बारहवीं पास किए थे। उसके बाद से ही छात्रों के भविष्य पर प्रश्न खड़ा हुआ है।

नहीं होगा कॉमर्स के छात्रों का नामांकन

विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक सिद्धेश्वर नारायण सिंह ने बताया कि 2018 में हीं बीसीए की नई नियमावली से सभी काॅलेजों को अवगत करा दिया गया था। जिसके अनुसार सिर्फ साइंस में गणित के छात्रों का ही बीसीए में नामांकन कराना है। सत्र 2018-2021 में लिए गए नामांकन के दौरान पूरे विश्वविद्यालय में सभी पंद्रह कॉलेजों में इस तरह के नामांकन लिए जाने की जानकारी सामने आई है। जबकि उन्हें पहले ही नियमावली दी जा चुकी थी। उधर नोडल सेंटर एसपी जैन कॉलेज के प्राचार्य डॉ गुरुचरण सिंह ने बताया कि छात्रों की समस्या से राजभवन को अवगत कराया गया है।

रोहतास के 7 कॉलेजों पर हुआ शो-कॉज

बीसीए में नियम-परिनियम को ताक पर रखकर कॉलेजों द्वारा लिये गये दाखिले पर विश्वविद्यालय प्रशासन ने कड़ा रुख अपनाते हुए तीन दिनों के भीतर जवाब मांगा है। विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा पत्र जारी करते हुए पूछा गया है कि छात्रों का दाखिला नियमावली के तहत क्यों नहीं लिया गया है? इसकी जानकारी दी जाये। बिना नियमावली के तहत दाखिला लेने से सैकड़ों छात्रों का साल बर्बाद होने के कगार पर है।

इन कॉलेज के प्राचार्यों से मांगा है जवाब

वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. देवी प्रसाद तिवारी ने कहा कि बीसीए नियमावली का पालन न करते हुए जिन कॉलेजों ने नामांकन लिया है। उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यह छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। उन्होंने बताया कि रोहतास जिले के एसपी जैन कॉलेज सासाराम, शेरशाह कॉलेज सासाराम, जवाहरलाल नेहरू कॉलेज डेहरी ऑन सोन, अनजबित सिंह कॉलेज बिक्रमगंज, एसएन कॉलेज शाहमल खैरादेव, राधा शांता कॉलेज तिलौथू एवं चौधरी चरण सिंह कॉलेज राजपुर को पत्र जारी कर 3 दिनों के अंदर जवाब मांगा गया है।

X
Sasaram News - instead of science seven colleges took admission of commerce students
COMMENT