विज्ञापन

सीएचसी में चिकित्सकों व कर्मियों की है कमी

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 03:06 AM IST

Sasaram News - दावथ स्थानीय सीएचसी में चिकित्सकों व नर्सिंग कर्मचारियों की घोर कमी को गैर नर्सिंग व गैर सरकारी लोगों के कारनामे...

Davth News - physician and personnel in chc
  • comment
दावथ स्थानीय सीएचसी में चिकित्सकों व नर्सिंग कर्मचारियों की घोर कमी को गैर नर्सिंग व गैर सरकारी लोगों के कारनामे को घायलों व उनके परिजनों ने जम कर सराहना किया गया। वहां पर उपस्थित लोगों ने शुक्रवार की आठ बजे रात्रि में घायलों की सहायता कर जम कर मानवता का परिचय दिया। जिससे घायल बुजुर्गों के साथ जुटे तमाम लोगों ने जम कर तारीफ किया। वहीं डियूटी पर तैनात चिकित्सा पदाधिकारी की तत्परता की जम कर सराहना किया गया। वर्ना मृतकों की संख्या और बढ सकती थी। मौके पर उपस्थित राजू पाठक, धर्मेंद्र सिंह, रामनवमी सिंह, जितेंद्र साह सहित कई लोगों ने बताया की सीएचसी दावथ में मात्र दो एमबीबीएस व एक दंतचिकित्सक हैं। जिसमें प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ राजनारायण प्रसाद कभी कभार ही कागजी कारवाई के लिए उपस्थित होते हैं।

मात्र एक चिकित्सा पदाधिकारी डा प्रीतम कुमार के भरोसे अस्पताल चलाया जा रहा है। शुक्रवार को क्षेत्र के एनएच 30 पर परमडीह पुल के समीप बनवा कर लौट रही एक बस अनियंत्रित हो कर चांंट में पलट गई। जिसमें 26 लोग बुरी तरह से जख्मी हो गए। सभी को अवधी मध्य विद्यालय के एचएम रविकांत सिंह की सूचना पुलिस व जनता सहित उनके अथक सहयोग से सीएचसी लाया गया। जहां एक एमबीबीएस व एक दंतचिकित्सक के द्वारा जल्द प्राथमिक उपचार करना बस की बात नहीं थी।

दावथ का सीएचसी

सिटी रिपोर्टर | दावथ

दावथ स्थानीय सीएचसी में चिकित्सकों व नर्सिंग कर्मचारियों की घोर कमी को गैर नर्सिंग व गैर सरकारी लोगों के कारनामे को घायलों व उनके परिजनों ने जम कर सराहना किया गया। वहां पर उपस्थित लोगों ने शुक्रवार की आठ बजे रात्रि में घायलों की सहायता कर जम कर मानवता का परिचय दिया। जिससे घायल बुजुर्गों के साथ जुटे तमाम लोगों ने जम कर तारीफ किया। वहीं डियूटी पर तैनात चिकित्सा पदाधिकारी की तत्परता की जम कर सराहना किया गया। वर्ना मृतकों की संख्या और बढ सकती थी। मौके पर उपस्थित राजू पाठक, धर्मेंद्र सिंह, रामनवमी सिंह, जितेंद्र साह सहित कई लोगों ने बताया की सीएचसी दावथ में मात्र दो एमबीबीएस व एक दंतचिकित्सक हैं। जिसमें प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ राजनारायण प्रसाद कभी कभार ही कागजी कारवाई के लिए उपस्थित होते हैं।

मात्र एक चिकित्सा पदाधिकारी डा प्रीतम कुमार के भरोसे अस्पताल चलाया जा रहा है। शुक्रवार को क्षेत्र के एनएच 30 पर परमडीह पुल के समीप बनवा कर लौट रही एक बस अनियंत्रित हो कर चांंट में पलट गई। जिसमें 26 लोग बुरी तरह से जख्मी हो गए। सभी को अवधी मध्य विद्यालय के एचएम रविकांत सिंह की सूचना पुलिस व जनता सहित उनके अथक सहयोग से सीएचसी लाया गया। जहां एक एमबीबीएस व एक दंतचिकित्सक के द्वारा जल्द प्राथमिक उपचार करना बस की बात नहीं थी।

शिकायत के बाद भी नहीं होती कार्रवाई

अस्पताल में कर्मियों की कमी के कारण मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इस अस्पताल में सुविधाओं को घोर अभाव है। इसको लेकर स्थानीय लोगों ने कई बार विभागीय अधिकारियों से शिकायत की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। शुक्रवार की रात बस दुर्घटना में जख्मी को गैरसरकारी कर्मियों व स्थानीय लोगों ने हाथ बढाते हुए किसी के बहते लहु को रोक रहा था तो कोई एसटेचर से लाकर बेड पर सुला रहा व एम्बुलेंस में डाल रहा था।

X
Davth News - physician and personnel in chc
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन