• Hindi News
  • Bihar
  • Sasaram
  • Sasaram News road construction company complains to police contractor took away precious machines from base camp

रोड कंस्ट्रक्शन कंपनी ने पुलिस से की शिकायत- बेस कैंप से कीमती मशीनें उठा ले गया ठेकेदार

Sasaram News - राष्ट्रीय राजमार्ग 30 के निर्माण कार्य के लिए आई मल्टीनेशनल अटलांटा ग्रुप कंपनी के मलियाबाग बेस कैंप से भारी और...

Dec 04, 2019, 09:21 AM IST
राष्ट्रीय राजमार्ग 30 के निर्माण कार्य के लिए आई मल्टीनेशनल अटलांटा ग्रुप कंपनी के मलियाबाग बेस कैंप से भारी और कीमती मशीनरियों को जबरन एक ठेकेदार द्वारा उठा लेने का मामला दावथ पुलिस के पास पहुंचा है। कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर रिखिन बबोर्ट ने स्थानीय पुलिस को आवेदन देकर कहा है कि कंस्ट्रक्शन कंपनी जे कुमार कंस्ट्रक्शन पर मलियाबाग कैंप से लाखों रुपए की भारी मशीनरियों जबरदस्ती उठा ले जाने की जानकारी दी है। साथ में उक्त कंस्ट्रक्शन कंपनी पर प्राथमिकी दर्ज करने के लिए रोहतास एसपी सहित कई वरीय अधिकारियों के पास आग्रह किया है। कंपनी के तरफ से बताया गया कि 22 नवंबर को उक्त कंस्ट्रक्शन कंपनी ने बेस कैंप के अंदर घुसकर लाखों रुपये की कीमती और भारी मशीनें ट्रकों पर लाद लिया है। जिसे जबरन ले जाने का एक अल्टीमेटम लिखित रूप से कंपनी को दिया है। इस संदर्भ में दावथ थानाध्यक्ष शशिभूषण ने बताया कि मामले की प्राथमिकी वरीय अधिकारियों से मिले निर्देश के बाद दर्ज हो पाएगी। क्योंकि कंपनी ने इसकी जानकारी घटना के लगभग 13 दिनों बाद दी है। जो जांच का विषय है।

जेके कंस्ट्रक्शन एंड सर्विस प्राईवेट लिमिटेड नामक गया की कंपनी ने अटलांटा ग्रुप को जो अल्टीमेटम दिया है। उसके अनुसार 2015 से पहले किए गए कार्य की राशि भुगतान से जुड़ा यह मामला है। जिसके लिए उक्त कंपनी ने अटलांटा ग्रुप से संपर्क कर राशि भुगतान का दबाव बनाया। भुगतान होता नहीं दिखाई पड़ा। तो कंपनी ने मलियाबाग बेस कैंप और उसके अंदर रखी गई मशीनरियों पर अपना दावा ठोका है। इधर अटलांटा ग्रुप के मैनेजिंग डायरेक्टर ने बताया कि उक्त कंपनी की भुगतान के लिए हम सभी वैध प्रक्रिया चला रहे हैं। उधर लोकल होने के कारण जे कंस्ट्रक्शन कंपनी के मालिक जबरन वसूली की प्रक्रिया अपनाए हुए हैं।

क्या था मामला: यह मामला राष्ट्रीय राजमार्ग 30 के फोर लेन निर्माण से जुड़ा हुआ है। कार्य अटलांटा ग्रुप को मिला था। 2015 में तकनीकी कारणों से कंपनी काम छोड़ दी। जिस पर हाइकोर्ट में एक याचिका दायर हुआ जो अभी तक सुनवाई की प्रक्रिया से चल रहा है। शुरूआती दौर में कराए कार्य के लिए अटलांटा ग्रुप ने कुछ छोटी कंपनियों को अपने साथ छोड़ा था। उसी में से एक जे कंस्ट्रक्शन ने अपनी बकाया राशि भुगतान का दावा ठोका है। जिस दावे को अटलांटा के एमडी ने फर्जी बताया है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना