जन आरोग्य योजना के लाभुकों का गोल्डन कार्ड बनाने के लिए दिया गया प्रशिक्षण

Sasaram News - प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत लोगों को गोल्डन कार्ड बनाने के लिये बुधवार को अनुमंडल अस्पताल परिसर में...

Nov 21, 2019, 09:07 AM IST
प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत लोगों को गोल्डन कार्ड बनाने के लिये बुधवार को अनुमंडल अस्पताल परिसर में डेहरी, अकोढ़ीगोला एवं रोहतास प्रखंड के कार्यपालक सहायकों का एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। यह योजना भारत सरकार की कल्याणकारी योजनाओं में एक है। जिसका उद्देश्य देश के गरीब परिवार जो बीपीएल के अंतर्गत आते हैं। उन्हें जीवन सुरक्षा के लिये पांच लाख रुपये तक की इलाज कराने की कैश रहित स्वास्थ बीमा उपलब्ध कराई जाती है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा बाबा साहब डाॅ. भीम राव अम्बेडकर की जयंती के अवसर पर 14 अप्रैल 2018 को छत्तीसगढ के बीजापुर से शुरू किया गया था और 25 सितंबर 2018 पंडित दिन दयाल उपाध्याय के जयंती पर पुरे देश भर में लागू किया गया था। योजना के तहत लाभुकों का रजिस्ट्रेशन करने के लिये कार्यपालक सहायकों को आज प्रशिक्षण देने का कार्य पूरा किया गया है। जिसमें पोर्टल पर कम्प्यूटर के माध्यम से मुख्य प्रशिक्षक अविनाश कुमार श्रीवास्तव के द्वारा प्रशिक्षण दिया गया है।

बीपीएल परिवार को पांच लाख तक के मुफ्त इलाज की मिलेगी सुविधा

प्रशिक्षण में शामिल कार्यपालक सहायक।

निम्न्न अर्हताओं को पूरा करने वालों को मिलेगा योजना का लाभ

योजना का लाभ प्राप्त करने के लिये ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को कच्चा मकान होना आवश्यक है। अन्यथा मकान पक्का है, तो सरकारी अनावास योजना का होना चाहिए। परिवार के मुखिया महिला हो, परिवार में कोई दिव्यांग हो, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जन जाति से हो, भूमिहीन व्यक्ति हो और दिहाड़ी मजदूरी करता हो। इसके अलावा बेघर व्यक्ति, भीख मांग कर जीविका चलाने वाला खुद इस योजना के अंतर्गत शामिल हो जायेगें। शहरी क्षेत्र में भिखारी, कूड़ा चुनने वाला, रेहड़ी- पटरी की दुकान, रिक्शा चलाने वाला, खोमचा बेचने वाला, मोची, फेरी वाले, सड़क के किनारे काम काज करने वाले गृह निर्माण में कार्य करने वाले मजदूर, पलंबर, राजमिस्त्री, पेंटर, वेल्डर, कारपेंटर, स्वीपर, कुली, टेलर, ड्राइवर भी योजना के अंतर्गत आएंगे।

अस्पताल में भर्ती होने से लेकर इलाज तक का सभी खर्च सरकार देगी

इस योजना के तहत गरीबों का एक पैनल तैयार किया है। जो लोग इस पैनल में शामिल नहीं है। उन्हें भी शामिल करने की प्रक्रिया चल रही है। योजना के तहत अस्पताल में भर्ती होने से लेकर इलाज तक का सभी खर्च सरकार चुकाएगी। अस्पताल में एडमिट होने के लिये भी कोई चार्ज नहीं देना है। अस्पतालों का भी पैनल तैयार किया है। जिसमें सरकारी और निजी अस्पताल दोनों शामिल हैं। देश के किसी भी राज्य के पैनल में शामिल अस्पताल में इलाज करा सकते हैं।

कहते हैं अधिकारी

प्रखंड विकास पदाधिकारी अरूण कुमार सिंह ने बताया कि लाभुकों का गोल्डन कार्ड बनाने का लिये आज कार्यपालक सहायकों को प्रशिक्षण देने का कार्य पूरा कर लिया गया है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना