पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मूल्यांकन कार्य नहीं करने वाले से मांगा स्पष्टीकरण

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के राम अवतार रामदेव महाविद्यालय शिवहर एवं युगल किशोर जयमंगल महाविद्यालय तरियानी से बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के निदेशक ने स्पष्टीकरण की मांग की है। इस बावत बिहार विद्यालय परीक्षा समिति उच्चतर माध्यमिक के निदेशक ने पत्र जारी कर निर्देशित किया है कि वार्षिक इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 के व्यवहृत उत्तर पुस्तिका के मूल्यांकन में सहयोग नहीं करने के कारण स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया है। यह भी निर्देश दिया गया है कि 26 फरवरी से पूर्व से ही उत्तर पुस्तिका का मूल्यांकन कार्य निर्धारित था। उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन एक अत्यंत महत्वपूर्ण कार्य है, जो राज्य के लाखों छात्रों के भविष्य जुड़ा हुआ है। समय पर परीक्षा फल घोषित नहीं करने के कारण राज्य के मेधावी छात्र-छात्राएं अखिल भारतीय प्रतियोगिता परीक्षाओं में तथा राज्य के बाहर प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों को स्नातक कक्षाओं में नामांकन लेने से वंचित हो जायेंगे। परीक्षा समिति के निदेशक ने कहा है कि आपके महाविद्यालय द्वारा मूल्यांकन संबंधी परीक्षा नियुक्त पत्र लेने से इनकार करने की सूचना जिला शिक्षा पदाधिकारी द्वारा दी गई है। अत्यंत महत्वपूर्ण सरकारी कार्य के गंभीर बाधा पहुंचाना एवं सरकारी आदेश का उल्लंघन करना भारतीय दंड संहिता के तहत दंडनीय अपराध है।

खबरें और भी हैं...