बाढ़ राहत सूची से वंचित विधवा समेत अन्य लोगों का अब तक नहीं जुड़ा नाम, आक्रोश

Sitamarhi News - बथनाहा प्रखंड के तुरकौलिया पंचायत के वार्ड छह में राहत सूची से वंचित लोगों का अबतक सूची में नाम नहीं जोड़ा गया है।...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 06:41 AM IST
Bathanaha News - flood relief list deprived widow39s name not included
बथनाहा प्रखंड के तुरकौलिया पंचायत के वार्ड छह में राहत सूची से वंचित लोगों का अबतक सूची में नाम नहीं जोड़ा गया है। इस कारण वंचित लोगों में जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों के प्रति आक्रोश है। वार्ड में बाढ़ राहत के लिए बनाई गई सूची में विधवा व दिव्यांग समेत कई लोगों को वंचित कर दिया गया है। वंचित लोग जनप्रतिनिधि से लेकर अधिकारियों को ज्ञापन दे चुके हैं। लेकिन अबतक सूची में वंचित लोगों का नाम नहीं जोड़ा गया है। विधवा जानकी देवी ने कहा कि वर्ष 2017 में शिक्षक द्वारा बनाई गई राहत सूची में उसका नाम था। उसे राहत का पैकेट भी मिला था। लेकिन, राशि नहीं मिली थी।

सूची से हटा दिया गया नाम

इस वर्ष बनाई गई सूची में उसका नाम नहीं दिया गया है। सूची में नाम जोड़वाने के लिए जनप्रतिनिधि समेत सभी अधिकारियों को ज्ञापन दिया है। लेकिन, अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। एमके झा ने कहा कि उसके साथ भी यही हुआ है। नाम जोड़वाने को लेकर सभी जगह आवेदन दे चुके हैं, पर अबतक नाम नहीं जुड़ा है। मनोज झा, राम झा, सुमन झा, नीतेश झा, संजय झा, आलोक झा समेत दर्जनों लोागें ने बताया कि सरकार वंचित लोगों के साथ नाइंसाफी कर रही है। बाढ़ आई 2019 में व राहत मिल रही है 2017 के लोगों को।

यह सरकार का कैसा इंसाफ है। 2017 में वंचित लोगों को इस वर्ष भी वंचित किया जा रहा है। कहा कि अधिकारियों से न्याय नही मिला तो कोर्ट में न्याय के लिए जाएंगे। लेकिन, इस बार चुप नही बैठेंगे। सरकार, अधिकारी व जनप्रतिनिधियों को वंचित लोगों का हक व अधिकार देना होगा।

मुखिया बोले- तकनीकी गड़बड़ी के कारण सूची से छूट गया है लाभुकों का नाम

राहत सूची से वंचित विधवा।

वंचित लोगों का नाम जोड़वाने का किया जा रहा प्रयास

मुखिया उमेश कुमार कपड़ी ने कहा कि कुछ लोग तकनीकी गड़बड़ी के कारण वर्ष 2017 में राहत पाने से वंचित हो गए थे। इसी कारण इस साल भी वंचित हो गए हैं। वंचित लोगों का नाम जोड़वाने का प्रयास किया जा रहा है। जल्द से जल्द सूची में नाम जोड़वा दिया जाएगा।

पीड़ितों का नाम सूची में जोड़वा कर उन्हें शीघ्र राशि देने की मांग

डुमरा | भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल जिला सचिव साधु शरण दास के नेतृत्व में जिला पदाधिकारी से मिलने पहुंचा। लेकिन डीएम की अनुपस्थिति में मांग पत्र को डीएम कार्यालय में जमा किया गया। प्रतिनिधिमंडल ने प्रशासन से छूटे हुए बाढ़ पीड़ितों का नाम सूची में जोड़वाकर उन्हें शीघ्र बाढ़ राहत की राशि उपलब्ध कराने की मांग की। जिले में लाभुकों को शौचालय निर्माण की राशि का भुगतान करने की मांग की गयी। वहीं बथनाहा प्रखंड के फौजी लाइन होटल के पास अंबेडकर नगर में 15 वर्षों से रह रहे भूमिहीन परिवारों को बास्कीत पर्चा अविलंब मुहैया कराने की मांग की गयी। कहा गया कि जिले के चोरौत से पुपरी की मुख्य सड़क बेहद जर्जर है। कई पुल पुलिया क्षतिग्रस्त है। इन सभी को अविलंब ठीक कराया जाए। दाखिल खारिज के लिए जिले में कैंप लगाया जाना चाहिए। नल जल सात निश्चय योजना सहित अन्य योजनाओं में हो रही अनियमितता की जांच उच्च स्तरीय पदाधिकारी से कराने की मांग रखी गयी। प्रतिनिधिमंडल में जिला कमेटी के सदस्य रघुवीर प्रसाद यादव, राकेश कुमार विद्यार्थी, पप्पू सिंह, राकेश पाठक शामिल थे।

X
Bathanaha News - flood relief list deprived widow39s name not included
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना