तापमान में वृद्धि, 20 मीटर नीचे खिसका भू-जल स्तर

Sitamarhi News - जिले के लोगों को इस बार भीषण गर्मी के कारण जल संकट की समस्या झेलनी पड़ सकती है। अप्रैल माह में ही जिस तरह से तेज...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 09:10 AM IST
Sitamarhi News - increase in temperature decreased groundwater level below 20 meters
जिले के लोगों को इस बार भीषण गर्मी के कारण जल संकट की समस्या झेलनी पड़ सकती है। अप्रैल माह में ही जिस तरह से तेज गर्मी शुरू हुआ है। वह पूर्व के दिनों में मई माह में चलता था। लेकिन इस बार समय से पहले गर्मी शुरु हो चुका है। बरसात भी सामान्य हुआ है। पर इन सब के बावजूद अभी ही आहर, पोखर का जलस्तर 20 मीटर नीचे तक गया है। वही भू-जल स्तर नीचे खिसकने से शुद्ध पेयजल पर भी संकट उत्पन्न होने की प्रबल संभावना बढ़ गई है। लगातार बढ़ रहे तापमान से 15-20 मीटर जलस्तर नीचे तक जाने की बात बतायी जा रही है। जिले के कुछ गांव में शुद्ध पेयजल पर भी आफत आने की संभावना है। प्रत्येक वर्ष गर्मी के महीने में सीतामढ़ी के दो-तीन प्रखंड एेसे है जहां सरकारी चापाकल को छोड़कर घर में लगाए गए अधिकतर चापाकल भी पानी देना बंद कर देते है।

खराब पड़े चापाकलों की मरम्मत का काम शुरू

पीएचडी के कार्यपालक अभियंता राजेश रौशन ने बताया कि सीतामढ़ी जिले के कुछ प्रखंडों में जल संकट उत्पन्न हो जाते थे। जिससे निपटने के लिए सरकारी स्तर पर चापाकल लगाए गए है। जिससे अब हालात बदले है। वहीं अन्य जगहों पर खराब पड़े चापाकल का कार्य शुरू कर दिया गया है।

आहर और तालाब सूखने के कगार पर

हालांकि गर्मी का आलम यह है कि कई जगहों पर तो आहर तालाब सूख चुके है। वहीं कुछ जगहों पर सूखने की स्थिति में है। हां हर तालाब में जल स्तर नीचे खिसकने से सबसे ज्यादा समस्या पशु पक्षियों को भी हो रहा है, जो भटकते हुए इस गांव से उस गांव में पहुंच जा रही है। जिले के सोनबरसा, पुपरी, रीगा, परसौनी, बथनाहा, सुरसंड में भी कमोबेश यही स्थिति है भू-जल स्तर गिरने से लोगों में चिंता बढ़ गई है।

जुलाई व अगस्त में बारिश होने की संभावना

मौसम वैज्ञानिक डॉ. मनोहर पंजीयार ने बताया कि इस बार जुलाई व अगस्त में भीषण बारिश होने की संभावना है। बारिश होगी तो जल संकट की समस्या उत्पन्न नहीं होगी। कमलदह गांव के सुबेश बैठा, रामनगरा गांव के रविन्द्र सिंह, बैरहा के भोला सिंह, सिरौली के अमरेन्द्र राय ने कहा कि गांव स्थित पोखर में जलस्तर काफी कम हो गया है। बारिश नहीं हुई तो पोखर सूख जाएगा। पशु-पक्षियों को भी पानी पीने की समस्या उत्पन्न हो जाएगी।

X
Sitamarhi News - increase in temperature decreased groundwater level below 20 meters
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना