पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्राथमिकी के बाद भी शिक्षिका को नहीं हटाया, डीपीओ से मांगा जवाब

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
वित्तीय अनियमितता में फंसने के बाद प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई। नियाेजन इकाई को निलंबन के लिए निर्देश भी दिया गया। लेकिन, प्राथमिकी दर्ज कराने के छह माह बाद भी सोनबरसा प्रखंड के प्राथमिक विद्यालय भगवानपुर में कार्यरत प्रखंड शिक्षिका रेणू कुमारी बतौर प्रधानाध्यापिका के रूप में कार्य कर रही है। मामले को लेकर डीईओ ने डीपीओ स्थापना से 24 घंटे के भीतर जबाव मांगा है। डीईओ ने कहा है कि जांच में आरोप सत्य पाए जाने के बाद किस आधार पर स्कूल में कार्यरत हैं।

फरवरी 2019 में दर्ज कराई गई थी प्राथमिकी

शिक्षिका के विरुद्ध जनवरी 2019 में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। साथ ही डीईओ रामचंद्र मंडल ने सोनबरसा प्रखंड के प्राथमिक विद्यालय भगवानपुर में पदस्थापित प्रखंड शिक्षिका रेणु कुमारी को निलंबित करते हुए उनके विरुद्ध विभागीय कार्रवाई का निर्देश पंचायत नियोजन इकाई सिंहवाहिनी को दिया था।

डीईओ ने डीपीओ स्थापना को 24 घंटे के भीतर कार्रवाई से अवगत कराते हुए जबाव मांगा है। कहा किस परिस्थिति में न तो उक्त शिक्षिका को निलंबित किया गया है और न ही वित्तीय प्रभार लिया गया है। आरोप सत्य पाए जाने के बाद प्राथमिकी भी कराई गई तो किस परिस्थिति में अब तक वह स्कूल में प्रधानाध्यापक के रूप में कार्य कर रही है।

खबरें और भी हैं...