पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Sonbarsha News Villagers Took Class Of Headmaster Headmaster Asked For Clarification From Three Teachers Absent

ग्रामीणों ने हेडमास्टर की ली क्लास, हेडमास्टर ने अनुपस्थित तीन शिक्षिकाओं से मांगा स्पष्टीकरण

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
स्कूल की व्यवस्था देखने के लिए बुधवार को मध्य विद्यालय फरछहिया पहुंचे ग्रामीणों ने गायब पाए गए शिक्षकों को लेकर प्रधानाध्यापक पर भड़क गए। करीब 50 की संख्या में पहुंचे ग्रामीणों ने प्रधानाध्यापकों से लगातार कई सवाल पूछे। कहा-आप हमारे बच्चों के गुरुजी है। बताइये, विद्यालय में ऐसा माहौल क्यों है? स्थिति गंभीर होते देख प्रधानाध्यापक अनिल कुमार ने उपस्थित शिक्षकों को कार्यालय में बुलाया। उन्हाेंने ग्रामीणों के सुझाव पर स्कूल में बेहतर माहौल कायम करने का भरोसा दिलाया।

ग्रामीणों के साथ स्कूल में बेहतर माहौल बनाने की रणनीति

प्रधानाध्यापक अनिल कुमार ने स्कूल में सभी शिक्षकों को स्कूल के कार्यालय में बुलाया। ग्रामीणों के सुझाव पर स्कूल में बेहतर माहौल कायम करने पर रणनीति तय की गई। शिक्षकों ने एक स्वर में कहा कि विश्वास दिलाता हूं, इस स्कूल में पढ़ाई होती है। आगे भी शिक्षा व्यवस्था दुरुस्त की जाएगी। कहा कि अभिभावकों की सक्रियता से स्कूल में निश्चित ही बेहतर माहौल कायम होगा।

शिक्षक बोले- विश्वास दिलाता हूं कि इस स्कूल में पढ़ाई होती है, आगे भी शिक्षा व्यवस्था दुरुस्त की जाएगी

स्कूल में शिक्षकों के साथ मंत्रणा करते ग्रामीण।

अगले बुधवार को फिर ग्रामीण एचएम से पूछेंगे सवाल

इस दौरान ग्रामीणों ने कहा कि 75 हजार विकास मद की राशि व बिजली के लिए आवंटित किए गए 15 हजार का हिसाब कहां है। अब गांव से कुछ युवाओं की टीम बनाई जाएगी। जो गांधीजी के सिद्धांतों को अपनाते हुए स्कूल की स्थिति को बताया जाएगा। मोबाइल का वीडियो चालू रहेगा। समय दिखाते हुए पूछा जाएगा कितने शिक्षक शिक्षिका उपस्थित है? अनुपस्थित के खिलाफ हाजरी काटने व अन्य कार्रवाई के लिए एचएम को कहेंगे। ताकि स्कूल की व्यवस्था को पारदर्शी बनाया जा सके। मौके पर पूर्णेन्दु कुशवाहा, प्रमोद, रामनरेश, रामनारायण, महेश, गुलाम, मुन्ना, राजेश, गांधी, राजीव, सुधीर, हिमांशु समेत अन्य थे।

एचएम ने स्कूल में उपलब्ध संसाधन से कराया अवगत

ग्रामीणों द्वारा विद्यालय की स्थिति की जानकारी मांगे जाने पर एचएम ने ग्रामीणों से कहा कि भवन जर्जर हो चुका है। पेयजल के लिए एक चापाकल, 4 शौचालय है। जबकि इस स्कूल में नामांकित 426 बच्चे है। दस शिक्षक शिक्षिका कार्यरत है। बुधवार को शिक्षक धर्मेंद्र कुमार, मो. गुलाम रसूल, गीता मंडल, प्रमिला कुमारी, रूखसाना मौजूद थीं।

अनुपस्थित 3 शिक्षिका तलब

एचएम ने ग्रामीणों के सामने अनुपस्थित मिली तीन शिक्षिका ललिता रानी, रेणु कुमारी व माधुरी कुमारी का सीएल पोस्ट करते हुए स्पष्टीकरण की मांग की। कहा कि स्पष्टीकरण का जबाव संतोषजनक नहीं पाया जाता है तो कार्रवाई के लिए उच्चाधिकारी से अनुशंसा की जाएगी। हालांकि इस बीच शिक्षिका ललिता 11:50 मिनट पर विद्यालय पहुंची।

खबरें और भी हैं...