--Advertisement--

जिला प्रमुख संघ की बैठक में बुला बीडीओ पर किया हमला, कुर्सी चलाकर फोड़ा सिर

चिकित्सकों ने उनकी गंभीर स्थिति को देखते हुए सीवान सदर अस्पताल रेफर कर दिया।

Danik Bhaskar | Mar 13, 2018, 05:25 AM IST
पीटाई के बाद जाते अस्पताल से बाहर निकलते बीडीओ। पीटाई के बाद जाते अस्पताल से बाहर निकलते बीडीओ।

सीवान/बड़हरिया. प्रखंड प्रमुख के चेंबर में सोमवार को आयोजित जिला प्रमुख संघ की बैठक में बीडीओ राजीव कुमार सिंहा को बुलाकर प्रखंड प्रमुख के भसुर सह जदयू अकलियत के प्रदेश महासचिव अमिरुल्लाह सैफी द्वारा न सिर्फ उनके साथ बदसलूकी की गई बल्कि उनके समर्थकों द्वारा उनपर कुर्सी भी चला दिया गया, इस हमले में बीडीओ का सिर फूट गया।


बैठक में गंभीर रूप से घायल बीडीओ को प्राथमिक इलाज के लिए बड़हरिया प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया, जहां चिकित्सकों ने उनकी गंभीर स्थिति को देखते हुए सीवान सदर अस्पताल रेफर कर दिया। घटना के बाद प्रखंड कार्यालय में हंगामा मच गया। सूचना के बाद जिले के सभी बीडीओ, सीओ के अतिरिक्त प्रभारी उपविकास आयुक्त सह एडीएम विधुभूषण चौधरी व डीसीएलआर रामबाबू बैठा सदर अस्पताल में पहुंच गए। इस मामले में दोनों पक्षों से प्राथमिकी के लिए आवेदन दिया गया है। प्रखंड प्रमुख सुबुक तारा सैफी का कहना है कि हमला पहले बीडीओ की तरफ से किया गया, उन्होंने ही पहले उनकी गाल पर तमाचा जड़ दिया। इसी से उनके समर्थक भड़क गए और दोनों पक्षों में मारपीट शुरु हो गई। बीडीओ का सिर उनके समर्थकों ने नहीं फोड़ा है, बल्कि दीवार में टकराने से चोट लगी है।

क्या है मामला

विकास योजनाओं के फंड को जल्द से जल्द खर्च कर देने को लेकर पिछले एक साल से बीडीओ राजीव कुमार सिंह और प्रखण्ड प्रमुख सुबुक तारा सैफी के बीच तनातनी चल रही थी। इसको लेकर प्रखंड प्रमुख की तरफ से कई बार जिलाधिकारी को आवेदन भी दिया गया था। बैठक में शामिल प्रखण्ड प्रमुख के भसुर सह जदयू अकलियत के प्रदेश महासचिव अमिरुल्लाह सैफी का कहना है कि बीडीओ प्रमुख की बात सुनने को तैयार नहीं थे। सोमवार को इसी समस्या के समाधान को लेकर जिला प्रमुख संघ की बैठक बड़हरिया प्रखण्ड प्रमुख के कार्यालय में बुलायी गई थी। बैठक में बीडीओ को भी बुलाया गया और उनसे प्रमुख द्वारा विकास योजनाओं के रजिस्टर की मांग की गई। सैफी का आरोप है कि बीडीओ ने बिना प्रमुख की अनुमति के विकास योजनाओं का फंड अपने कुछ चहेते बीडीसी को खर्च करने की अनुशंसा कर दी थी। सैफी के अनुसार बैठक में जब यही बात बीडीओ से प्रखण्ड प्रमुख द्वारा पूछा गया तो वह भड़क गए और उनपर हाथ चला दिया। इसके बाद मामला गंभीर रूप अख्तियार कर लिया और प्रमुख के समर्थकों व बीडीओ के बीच मारपीट और हाथापायी शुरु हो गई।

प्रमुख के समर्थकों की गुंडागर्दी के खिलाफ बड़हरिया में चला पुलिस का डंडा, दो समर्थक किए गए गिरफ्तार

बड़हरिया प्रखंड प्रमुख के चेंबर में आयोजित जिला प्रमुख संघ की बैठक में बीडीओ राजीव कुमार सिन्हा को बुलाकर प्रखण्ड प्रमुख के भसुर सह जदयू अकलियत के प्रदेश महासचिव अमिरुल्लाह सैफी द्वारा न सिर्फ उनके साथ बदसलूकी किए जाने बल्कि उनके समर्थकों द्वारा उनपर कुर्सी चलाकर बीडीओ का सिर फोड़ डालने के मामले को लेकर जिला प्रशासन ने सख्त रुप अख्तियार कर लिया है। पुलिस अधीक्षक नवीनचन्द्र झा ने कहा कि बीडीओ से प्राप्त आवेदन के आधार पर दोषी प्रखण्ड प्रमुख के भसुर सह जदयू अकलियत के प्रदेश महासचिव अमिरुल्लाह सैफी सहित एक दर्जन से अधिक जनप्रतिनिधियों को इस मामले में नामजद अभियुक्त बनाया गया है। पुलिस न इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए हमले में नामजद प्रखंड प्रमुख के दो समर्थकों को गिरफ्तार भी कर लिया है। दूसरे पक्ष से अभी कोई भी आवेदन पुलिस को प्राप्त नहीं है। आवेदन मिलने के बाद विचार किया जाएगा। फिलहाल इस काण्ड के सभी नामजद आरोपी फरार है।

एसपी ने कहा- बैठक में पति या देवर की इंट्री बंद

पुलिस अधीक्षक नवीनचन्द्र झा ने कहा कि किसी भी बैठक में कैसे कोई जनप्रतिनिधि का भाई, पति, देवर या भसुर की इंट्री हो जाती है। जिलाधिकारी से बात करेंगे और आगे से यह व्यवस्था डेवलप न हो इसका प्रयास करेंगे। एसपी ने सख्त लहजे में कहा कि अब किसी हाल में जनप्रतिनिधियों के रिश्तेदारों को पदाधिकारियों की बैठक में इंट्री नहीं दी जाएगी।