Hindi News »Bihar »Siwan» स्कूलों में बच्चों को नहीं मिल रहा है अंडा व फल

स्कूलों में बच्चों को नहीं मिल रहा है अंडा व फल

जिले के प्राइमरी व मिडिल स्कूलों में मिड डे मील योजना के तहत बच्चों को अंडा नहीं मिल रहा है। जबकि हिन्दी स्कूलों...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 28, 2018, 05:20 AM IST

जिले के प्राइमरी व मिडिल स्कूलों में मिड डे मील योजना के तहत बच्चों को अंडा नहीं मिल रहा है। जबकि हिन्दी स्कूलों में शुक्रवार को व उर्दू स्कूलों में रविवार को प्रत्येक बच्चे को एक उबला हुआ अंडा देना है। यह योजना नवम्बर 2017 से लागू है। शुरुआती दौर में तो इसका पालन हुआ। लेकिन अब जिले के अधिकतर स्कूलों में इसका पालन नहीं होता है। अगर किसी स्कूल में इसका पालन भी होता है तो बच्चों को एक अंडा में दो भाग करके दिया जाता है। जबकि एक बच्चे को पूरा अंडा देना है। इसके लिए राज्य सरकार अगल से राशि का भुगतान करती है। लेकिन इस मद की राशि में बड़े स्तर पर गोलमाल किया जा रहा है। जबकि सभी प्रखंड में इसकी जांच के लिए मिड डे मील साधन सेवी बहाल है। वहीं जिला स्तर पर मिड डे मील की डीपीओ भी है। लेकिन जांच ठीक ढंग से नहीं किए जाने से इस तरह की समस्या सामने आ रही है। इसके लाभ से बच्चे वंचित हो रहे है। हालांकि जो बच्चे शाकाहारी है। उसे अंडे की कीमत लायक मौसमी फल देना है। लेकिन फल भी नहीं दिया जा रहा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Siwan

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×