--Advertisement--

सड़क के बीच से गुजर रहा 33 हजार केवीए लाइन

बिजली विभाग की लापरवाही का ये आलम है कि शहर के बीच रास्ते से विभाग द्वारा 33 हजार केवीए की लाइन गुजर रही है। तरवारा...

Dainik Bhaskar

Jul 31, 2018, 05:20 AM IST
सड़क के बीच से गुजर रहा 33 हजार केवीए लाइन
बिजली विभाग की लापरवाही का ये आलम है कि शहर के बीच रास्ते से विभाग द्वारा 33 हजार केवीए की लाइन गुजर रही है। तरवारा मोड़ स्थित सब स्टेशन से श्रीनगर पीएसएस तक लगभग 6 किलोमीटर में खुली हाई वोल्टेज तार तो दौड़ा दिया गया है। लेकिन सुरक्षा का कोई इंतजाम नहीं किया गया है। तार टूटने की स्थिति में उसे रोकने के लिए ना कोई जाली लगाई गई है या अन्य कोई व्यवस्था की गई। इस स्थिति में तार टूटने पर बड़ा हादसा हो सकता है। या नीचे से गुजर रही किसी गाड़ी पर रखे अधिक ऊंचाई वाली वस्तु भी बिजली तार को छू सकती है, जिससे बड़ा हादसा हो सकता है। बिजली की तार जिस रास्ते से दौड़ाई गई है, वह शहर की मुख्य सड़क है। मुख्य सड़क होने से यहां हमेशा जाम लगा रहता। मार्ग के समीप दोनों तरफ उच्च होटल और आवास होने से हमेशा बच्चों पतंग फंस जाती है जिसे निकालने के प्रयास में बच्चे नजदीक तक चले जाते हैं। अगर हाई टेंशन के पोल का मकान से संपर्क हो और किसी कारण से करंट लीक हो जाए तो स्थिति विकट हाे सकती है। यही वजह है कि 11 व 33 हजार केवीए लाइन को मुहल्ला व घनी आबादी के दूर से निकाला जाता है। लेकिन नगर परिषद क्षेत्र से गुजारते वक्त विभाग के अधिकारियों द्वारा ध्यान नहीं दिया गया है।

कुछ महीनों में केबल लगा दिया जाएगा


X
सड़क के बीच से गुजर रहा 33 हजार केवीए लाइन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..