• Hindi News
  • Bihar News
  • Siwan
  • झमाझम बारिश से 34300 हेक्टेयर में हुई धान की रोपनी
--Advertisement--

झमाझम बारिश से 34300 हेक्टेयर में हुई धान की रोपनी

जिले में एक सप्ताह से झमाझम बारिश हो रही है। भले ही यह बारिश काफी इंतजार के बाद शुरू हुई। लेकिन जिस तरह बारिश हो रही...

Dainik Bhaskar

Jul 28, 2018, 05:25 AM IST
झमाझम बारिश से 34300 हेक्टेयर में हुई धान की रोपनी
जिले में एक सप्ताह से झमाझम बारिश हो रही है। भले ही यह बारिश काफी इंतजार के बाद शुरू हुई। लेकिन जिस तरह बारिश हो रही है। उससे किसान खुश नजर आ रहे हैं। वे खेतों में जाकर धान की रोपनी में व्यस्त हैं। एक सप्ताह पहले तक धान की रोपनी महज 10 फीसदी हुई थी। लेकिन यह रोपनी शुक्रवार तक 35 फीसदी तक पहुंच गई है। इस साल 98 हजार हेक्टेयर में धान की रोपनी की जानी है। अभी तक 34 हजार 300 हेक्टेयर में धान की रोपनी पूरी कर ली गई है। जिला कृषि पदाधिकारी अशोक कुमार राव ने बताया कि जिस गति से रोपनी हो रही है। उससे लगता है कि 15 दिनों में धान की रोपनी पूरी हो जाएगी। बारिश भी अच्छी हो रही है। इसलिए किसानों को रोपनी करने में भी सहूलियत हो रही है। 4 जुलाई के बाद बारिश थम गई थी। इससे किसानों के बीच पानी के लिए हाहाकार मच गया थ। जिस खेतों में रोपनी हुई थी। वहां पर धान की फसलें सूखने लगी थी। किसानों को लग रहा था कि इस साल सुखाड़ हो जाएगा। लेकिन पिछले सप्ताह से झमाझम बारिश ने किसानों के मुर्झाए चेहरे पर खुशी ला दी है।

मौसम

किसानों के चेहरे पर खुशी, जुलाई में 158 एमएम बारिश की जरूरत, अभी तक 110.25 एमएम बारिश हुई

लकड़ी नबीगंज प्रखंड में धान की रोपनी कार्य करती महिला।


24 घंटे में सिसवन में सबसे ज्यादा बारिश

पिछले 24 घंटे में सिसवन प्रखंड में सबसे ज्यादा बारिश हुई है। जिला कृषि पदाधिकारी ने बताया कि 26 जुलाई को सिसवन में 40.2 एमएम बारिश हुई है। जबकि सबसे कम पचरुखी में 2 एमएम बारिश हुई है। जबकि पिछले सप्ताह जब बारिश की शुरुआत हुई थी तो सीवान सदर व पचरुखी प्रखंड में ही ज्यादा बारिश हुई थी। सिसवन प्रखंड में उसे समय महज 3 एमएम ही बारिश हो सकी थी। लेकिन दो दिनों बाद से सिसवन में भी तेज बारिश होने लगी थी।

X
झमाझम बारिश से 34300 हेक्टेयर में हुई धान की रोपनी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..