Hindi News »Bihar »Siwan» बिजली विभाग के अधिकारी पर लकड़ी बेचने का आरोप

बिजली विभाग के अधिकारी पर लकड़ी बेचने का आरोप

शहर के बबुनिया रोड़ में नए फीडर के लिए पोल व तार लगाने के दौरान हरे-भरे पेड़ काटने के मामले में वनों के क्षेत्र...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 13, 2018, 05:26 AM IST

बिजली विभाग के अधिकारी पर लकड़ी बेचने का आरोप
शहर के बबुनिया रोड़ में नए फीडर के लिए पोल व तार लगाने के दौरान हरे-भरे पेड़ काटने के मामले में वनों के क्षेत्र पदाधिकारी दिलीप कुमार ने बिजली विभाग के अफसरों को नोटिस दी है। इस नोटिस में कटाई व छंटाई के बाद लकड़ी को बेचने या उसे आम लोगों से लुटवाने का आरोप लगाया है। हालांकि अभी तक वन विभाग ने बिजली कम्पनी के अफसरों पर एफआईआर दर्ज नहीं कराया है। जबकि हरे- भरे पेड़ बिना परमिशन काटने के मामले में सीधे एफआईआर दर्ज कराने का प्रावधान है। इससे लगता है कि वन विभाग के अफसर भी बिजली विभाग के अफसरों को बचाने का प्रयास कर रहे है। जबकि कई लोगों का कहना है कि अगर यह आम पब्लिक द्वारा काटी गई होती तो अबतक एफआईआर दर्ज करा दी जाती। इधर वनों के क्षेत्र पदाधिकारी ने बिजली विभाग सप्लाई के कार्यपालक अभियंता व प्रोजेक्ट के कार्यपालक अभिंयता को पत्र लिखा है। इसमें अारोप लगाया है कि 8 अगस्त को बबुनिया मोड़ से लेकर स्टेशन मोड़ तक का निरीक्षण किया गया। इस दौरान पाया गया कि पेड़ों की कटाई व छंटाई की गई है।

नियम की अनदेखी

बिना अनुमति पेड़ काटने का मामला, 4 दिन बाद भी दर्ज नहीं कराई गई एफआईआर, अभी तार लगाने का काम रुका

बबुनिया रोड़ में तार लगाने के लिए काटी गई पेड़ की डाली।

चेतावनी दी गई है

बिजली विभाग की पहली गलती प्रकाश में अाई थी। इसलिए उसे चेतावनी दी गई है। अगर अब एक भी पेड़ बिना अनुमति के काटने की सूचना मिलेगी तो सीधे एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। दिलीप कुमार, वनों के क्षेत्र पदाधिकारी, सीवान

लकड़ी व जलावन को अवैध रूप से बेच दिया गया

साथ ही वन पदार्थ लकड़ी व जलावन को अवैध रूप से बेच दिया गया है या लोगों में लुटवा दिया गया है। इससे हजारों रुपये सरकारी राजस्व की क्षति हुई है। वनों के क्षेत्र पदाधिकारी ने नियमावली का भी हवाला दिया है। इसमें कहा है कि आवश्यक बाधक वृक्षों की कटाई व छंटाई का काम वन प्रमंडल पदाधिकारी गोपालगंज से अनुमति लेकर करनी है। साथ ही कटाई व छंटाई के पहले स्थानीय वन कर्मी को लिखित रूप में सूचना देनी है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Siwan

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×