Hindi News »Bihar »Siwan» 11 दिनों से डाकघरों से रुपए की नहीं हो रही है निकासी

11 दिनों से डाकघरों से रुपए की नहीं हो रही है निकासी

सीवान शहर स्थित प्रधान डाकघर। सिस्टम में बदलाव की वजह से काम प्रभावित सिटी रिपोर्टर| सीवान सीवान क्षेत्र...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 07, 2018, 05:30 AM IST

11 दिनों से डाकघरों से रुपए की नहीं हो रही है निकासी
सीवान शहर स्थित प्रधान डाकघर।

सिस्टम में बदलाव की वजह से काम प्रभावित

सिटी रिपोर्टर| सीवान

सीवान क्षेत्र के 35 ऑनलाइन डाकघरों में 11 वें दिन भी कामकाज शुरू नहीं हुअ है। इस वजह से हजारों उपभोक्ता परेशान है। सबसे ज्यादा परेशानी मध्यम वर्ग के लोगों को है। वे डाकघरों के कर्मियों व अफसरों की उदासीनता की वजह से आर्थिक परेशानी झेल रहे हैं। इसका कारण है कि अभी भी 35 उपडाक घरों में न रूपये जमा हो रहा है न निकासी हो रही है। इससे घरेलू काम भी प्रभावित हो रहा है। मध्यम वर्ग के लोग डाकघरों में ही अपना बचत खाता खोले हुए है। लेकिन 28 जुलाई से ही काम नहीं हो रहा है। सिस्टम में बदलाव की वजह से डाक विभाग के कर्मियों काे उस सिस्टम को ऑपरेट करने नहीं आ रहा है। जबकि विभाग का कहना है कि कर्मियों को इसके लिए ट्रेनिंग दी गई है। जबकि कर्मियों का कहना है कि जाे ट्रेनिंग दी गई थी। उससे समझ में नहीं आया। विस्तार से ट्रेनिंग देने की जरुरत थी। लेकिन विस्तार से ट्रेनिंग नहीं दी गई। इस वजह से सिस्टम संचालन में कठिनाई हो रही है। अभी खेती बारी का समय है। इसलिए किसानों को भी खेती करने के लिए रूपये की जरुरत है। किसी भी डाकघर में 5 हजार से कम बचत खाता नहीं है। इतने उपभोक्ता 28 जुलाई से ही परेशान है। हालांकि अभी तक उपभोक्ताओं काे स्पष्ट रूप से जानकारी नहीं दी जा रही है कि आखिर इसमें सुधार किस दिन से होगा। डाक अधीक्षक का कहना है कि नया सिस्टम होने की वजह से इसमें सुधार का प्रयास किया जा रहा है। जल्द ही सुधार हो जाएगा और कामकाज भी शुरु होगा। इधर अभी केवन प्रधान डाकघर में ही जमा व निकासी का काम हो रहा है। इसके अलावा 35 डाकघरों में रजिस्ट्री भेजने व आने का कभी काम बंद हो गया है। जो डाक आरएमएस से जा रहा है। उसे भी बंडल बनाकर रख दिया जा रहा है।

लोग परेशान

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Siwan

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×