• Hindi News
  • Bihar
  • Siwan
  • शादी की नीयत से नाबालिग के अपहरण में युवक दोषी करार

शादी की नीयत से नाबालिग के अपहरण में युवक दोषी करार / शादी की नीयत से नाबालिग के अपहरण में युवक दोषी करार

Siwan News - एडीजे प्रथम विनोद कुमार शुक्ला की अदालत ने दुष्कर्म और शादी के नीयत से नाबालिग को अपहरण करने से जुड़े मामले में...

Bhaskar News Network

Aug 11, 2018, 05:35 AM IST
शादी की नीयत से नाबालिग के अपहरण में युवक दोषी करार
एडीजे प्रथम विनोद कुमार शुक्ला की अदालत ने दुष्कर्म और शादी के नीयत से नाबालिग को अपहरण करने से जुड़े मामले में नामजद पिता एवं पुत्र में से पुत्र को दोषी करार दिया है। अदालत ने मामले में नामजद कांड के अभियुक्त रामसूरत चौहान के पिता मोतीलाल चौहान को संदेह का लाभ देते हुए बरी करने का आदेश पारित किया है। जबकि रामसूरत चौहान को कांड का दोषी पाया है। बताया जाता है कि मुफस्सिल थाना के पिठौरी गांव निवासी किशोरी देवी अपनी 14 वर्षीय पुत्री ज्योति एवं 8 वर्षीय पुत्र कुणाल के साथ छत 21 मार्च की रात सोई हुई थी । इसी बीच रात के अंतिम पहर में उसका नींद खुला तो नाबालिग पुत्री ज्योति वहां से गायब मिली । अंत में जब मोबाइल का कॉल डिटेल्स देखा गया तो पता चला कि अंतिम पहर में पड़ोस के युवक रामसूरत चौहान ने उसे कॉल करके बुलाया था । अन्य ग्रामीणों ने भी ज्योति के साथ रामसूरत को देखे जाने की बात कही थी ।किशोरी देवी के बयान पर मुफस्सिल थाना में वर्ष 2013 में पिता पुत्र मोतीलाल चौहान और रामसूरत चौहान के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी । अदालत ने शुक्रवार को सुनवाई करते हुए रामसूरत चौहान को भा द वि की धारा 366 ये के अंतर्गत दोषी करार दिया है । जबकि मोतीलाल चौहान को संदेह का लाभ देते हुए रिहा करने का आदेश पारित किया है। मामले में अदालत की ओर से अपर लोक अभियोजक ललन राम तथा बचाव की ओर से अधिवक्ता रामेश्वर सिंह ने बहस किया। अदालत मामले में सजा के बिंदु पर सुनवाई के लिए 17 अगस्त की तिथि निर्धारित की है।

कोर्ट का फैसला

X
शादी की नीयत से नाबालिग के अपहरण में युवक दोषी करार
COMMENT