Hindi News »Bihar »Siwan» डेंजर प्वाइंट के पास पहुंची सरयू, तटवर्ती इलाकों में बाढ़ का खतरा

डेंजर प्वाइंट के पास पहुंची सरयू, तटवर्ती इलाकों में बाढ़ का खतरा

शांत चल रही सरयू के जलस्तर में एकाएक हो रही वृद्धि से एक बार फिर बाढ़ की दहशत फैलने लगी है। लगातार हो रही बारिश से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 07, 2018, 05:35 AM IST

डेंजर प्वाइंट के पास पहुंची सरयू, तटवर्ती इलाकों में बाढ़ का खतरा
शांत चल रही सरयू के जलस्तर में एकाएक हो रही वृद्धि से एक बार फिर बाढ़ की दहशत फैलने लगी है। लगातार हो रही बारिश से काफी मात्रा में पानी सरयू में आ रहा है। जिससे सरयू नदी के पानी ने नदी के तटवर्ती इलाकों को छूना शुरू कर दिया है। कटाव तेज हो गए हैं और साईपुर, ग्यासपुर, गंगपुर, कचनार, गभीरार, नरहन, मैनी टांड, दरौली आदि के इलाकों में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है।

चिंतित हैं तटवर्ती क्षेत्र में रहने वाले ग्रामीण

नदी के बढ़ते जलस्तर को लेकर तटवर्ती क्षेत्र के रहने वाले ग्रामीण काफी चिंतित हैं। कुछ ऐसा ही हाल सिसवन प्रखंड क्षेत्र की ग्यासपुर पंचायत के नवका टोला गांव व दरौली प्रखंड का है। यहां से होकर गुजरने वाली सरयू नदी इन दिनों उग्र रूप धारण किए हुई है। तेजी से हो रहे कटाव को देख ग्रामीण दहशत में हैं। इसको लेकर बाढ़ नियंत्रण विभाग के अधिकारी भी अलर्ट हैं। बांध में हो रहे कटाव को रोकने को लेकर तकरीबन 20 हजार से अधिक बोरों में बालू भरा जा चुका है एवं आए दिन बाढ़ नियंत्रण के अधिकारी ग्यासपुर, भागर, कचनार, सिमसिम पर नजर बनाये हुए हैं। उधर बाढ़ विभाग निचली सतह के कटाव को देख बांध के कटाव को रोकने को लेकर अलर्ट है।

गंगपुर सिसवन में सरयू डेंजर प्वाइंट से महज 45 सेमी नीचे बह रही

सरयू के बाढ़ से घिरा सिसवन का हरेराम ब्रह्मचारी आश्रम

सरयू के जलस्तर में वृद्धि से तटवर्ती इलाके के लोगों की चिंताएं बढ़ती जा रही है। सोमवर्बको नदी के रुख में तल्खी दिखी। 24 घंटे के भीतर जलस्तर में 13 सेमी की वृद्धि दर्ज की गई। कटान की स्थिति भयावह बनी हुई है। इसे तटवर्ती इलाकों में पानी भरता ही जा रहा है।गंगपुर सिसवन का हरेराम ब्रह्मचारी आश्रम सरयू के सैलाब के पानी मे तीन ओर से घिर गया है। नदी के रिंग बांध के नीचे सैलाब का पानी पसर गया है।नवका टोला में कटाव हो रहा है। केंद्रीय जल आयोग के मुताबिक गंगपुर सिसवन में सरयू डेंजर प्वाइंट से महज 45 सेमी नीचे बह रही है। रविवार की दोपहर 12 बजे नदी का वाटर लेवल 56.42मीटर रिकॉर्ड किया गया।

नदी में समाती जा रही कृषि भूमि

नदी में तेजी से समाती जा रही दियारों की कृषि योग्य भूमि को लेकर किसान चिन्तित हैं। हजारों एकड़ में फैले दियारे की स्थिति यह है कि कभी गन्ना का बड़ा बेल्ट कहा जाने वाला क्षेत्र आज कटान की जद में लगातार जा रहा है। क्षेत्र से खेत-खलिहानों का वजूद मिटता जा रहा है। बाढ़ से बचने के लिए उपाय होते हैं लेकिन भयावह कटान को रोकने के लिए अब तक किसी भी स्तर से पहल नहीं किया गया। कटान से हो रही बर्बादी को किसान अपनी नजरों के सामने देख रहे हैं।

नरहन सरयू नदी के जलस्तर बढ़ने से कटाव जारी

रघुनाथपुर| जिले के दक्षिणांचल क्षेत्र स्थित रघुुनाथपुर के सटे नरहन से गुजर रही सरयू नदी इन दिनों काफी उफान पर है। जल स्तर काफी ज्यादा बढ़ जाने से तटवर्ती इलाकों में फसल की बर्बादी के कगार पर है। सरयू नदी के तटवर्ती गांव नरहन गांव के किसानों की मानें तो इस साल यूपी सीमा पर कटाव जारी है । इसके तहत उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के सुल्तानपुर गांव का तटवर्ती इलाका कटाव की चपेट में है। ग्रामीणों के अनुसार कटाव इस पार भी है। लेकिन नरहन गांव के समीप नहीं है।

दरौली में सरयू के जलस्तर में वृद्धि से निचले इलाके में हो रहा कटाव।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Siwan

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×