• Home
  • Bihar News
  • Siwan
  • जिले में सड़क व नहराें के किनारे लगाए जाएंगे 553 पौधे
--Advertisement--

जिले में सड़क व नहराें के किनारे लगाए जाएंगे 553 पौधे

बारिश नहीं होने से जिले में मनरेगा के तहत पौधरोपण के कार्य पर ग्रहण लग गया है। वित्तीय वर्ष 2018-19 में मनरेगा के तहत...

Danik Bhaskar | Jul 21, 2018, 05:40 AM IST
बारिश नहीं होने से जिले में मनरेगा के तहत पौधरोपण के कार्य पर ग्रहण लग गया है। वित्तीय वर्ष 2018-19 में मनरेगा के तहत जिले में सड़क व नहर के दोनों किनारे पौधरोपण किया जाना है। सरकार ने प्रत्येक यूनिट में दो-दो सौ पौधा लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसके तहत फलदार व लकड़ी वाले पौधे लगाने हैं। लेकिन, बारिश के अभाव में लक्ष्य पूरा करना तो दूर पौधरोपण का कार्य भी शुरू नहीं हो सका है।

वित्तीय वर्ष 2018-19 में मनरेगा के तहत जिले में सड़क व नहर के दोनों किनारे पौधरोपण किया जाना है

पर्यावरण की रक्षा के लिए किया जा रहा पौधरोपण।

207 पौधे लगाने का है लक्ष्य| जिले में मनरेगा के तहत तहत सड़क किनारे 131 व नहर किनारे 76 पौधे लगाने का लक्ष्य है। सीवान सदर में सड़क के किनारे 8, गुठनी व हसनपुरा में 3-3, हुसैनगंज में 6, जीरादेई में 16, लकड़ी नबीगंज में 5, मैरवा 2, नौतन में 13, पचरुखी, रघुनाथपुर व सिसवन में 5-5, आंदर में 5, बसंतपुर में 4, महाराजगंज में 6, भगवानपुर हाट में 20, दरौली में 16, दरौंदा 3, व गोरेयाकोठी में 5 पौधे लगाने का लक्ष्य निर्धारित है। इसी तरह से नहर किनारे आंदर, दरौंदा, गुठनी, पचरुखी, सिसवन व बसंतपुर में नहर किनारे 3-3 , सीवान सदर में 5, महाराजगंज में 2, भगवानपुर हाट में 10, दरौली में 18, हसनपुरा व हुसैनगंज में 2-2, जीरादेई में 8, रघुनाथपुर, लकड़ी नबीगंज व मैरवा में 1-1 व नौतन में 8, जगहों पर नहर किनारे पौधरोपण करना है।

इन स्थानों पर होने हैं पौधरोपण

वहीं वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए व्यक्तिगत स्तर पर सबसे अधिक भगवानपुर प्रखंड में सौ व सबसे कम हसनपुरा में एक पौधा लगाना है। इसके अलावा सदर प्रखण्ड में 11, आंदर में 18, बड़हरिया में 30, बसंतपुर में 27, महाराजगंज व दरौली में 20-20, दरौंदा व गोरेयाकोठी में 7-7, गुठनी में 2, हुसैनगंज में 23, जीरादेई में 32 लकड़ी नबीगंज में 5, मैरवा, रघुनाथपुर व सिसवन में 3-3, नौतन में 28 व पचरुखी में 6 स्थान पर पौधरोपण करना है।