• Home
  • Bihar News
  • Siwan
  • बिना तैयारी सीएसआई लागू होने पर 35 डाकघरों में 8 दिनों से काम ठप
--Advertisement--

बिना तैयारी सीएसआई लागू होने पर 35 डाकघरों में 8 दिनों से काम ठप

डाक विभाग में आठ दिन पहले अर्थात 28 जुलाई से बगैर पूरी तैयारी के सीएसआई यानी कोर सिस्टम इंटिग्रेटर लागू कर दिया है,...

Danik Bhaskar | Aug 05, 2018, 05:40 AM IST
डाक विभाग में आठ दिन पहले अर्थात 28 जुलाई से बगैर पूरी तैयारी के सीएसआई यानी कोर सिस्टम इंटिग्रेटर लागू कर दिया है, जो अब कर्मचारियों के लिए मुसीबत बन गया है। स्थिति यह है कि विभाग के छोटे-बड़े डाकघरों के मौजूदा कंप्यूटर सिस्टम अपडेट ही नहीं है, जिससे महीने के पहले पखवारे की अवधि की आरडी जमा तक नहीं हो पाई है। जबकि एजेंटों को ग्राहक किश्त दे चुके हैं, पर विभाग का सिस्टम काम नहीं करने से राशि जमा नहीं हो रही है, जिससे हजारों ग्राहक अब डिफाल्टर हो रहे हैं। इसपर एक फीसदी पैनल्टी कौन देगा, इसे लेकर बहस भी होने लगी है।

कहां-क्या है स्थिति

सीवान डाक क्षेत्र के 35 डाकघरों में आठवें दिन शनिवार को भी कामकाज प्रभावित रहा। इस दिन कोई काम नहीं हुआ। पोस्टमास्टर समेत अन्य कर्मचारी आए और बिना काम किए ही सुबह से शाम तक बैठे रहे। इसके बाद शाम में डाकघर बंद कर घर चले गए। सबसे ज्यादा परेशानी डाकघर में बचत खाता वाले उपभोक्ताओं को हो रही है। वे चाहकर भी रुपए की निकासी नहीं कर पा रहे हैं। विभागीय गलती की वजह से हजारों उपभोक्ताओं को पेनाल्टी देना होगा। कारण कि प्रधान डाकघर समेत 55 डाकघरों में मासिक खाता भी है। जहां पर नियमावली है कि माह के अंत तक हर माह की तय राशि को जमा कर देना है। लेकिन माह के अंत के बाद प्रति सैकड़ा एक रुपए अतिरिक्त चार्ज देना पड़ता है। इस तरह जिले के उपभोक्ताओं को अतिरिक्त चार्ज के तौर पर लाखों रुपए देना होगा। जहां पर अभी भी मैनुअल जमा निकासी होता है। वहां पर तो रुपए का लेन-देन हो रहा है। लेकिन 35 डाकघर ऑनलाइन कर दिया गया है। इस वजह से रुपए का लेन-देन बंद है।

06 लाख से ज्यादा खाताधारी है सीवान जिले में

महीने के पहले पखवारे की अवधि की जमा तक नहीं हुई आरडी

शहर के रामराज्य मोड़ स्थित डाकघर, जहां पर नहीं जा रहे उपभोक्ता। कृष्णा सिनेमा कैम्पस स्थित डाकघर में पसरा वीरागनगी और डयूटी पर बैठे पोस्टमास्टर।

डाकघरों में न रजिस्ट्री हो रही है न कोई काम

डाकघरों में न रजिस्ट्री हो रही है न अन्य किसी भी तरह का काम। जबकि डाकघरों में खाताधारियों की संख्या 6 लाख से ज्यादा है। इसमें प्रधान डाकघर में ही एक लाख से ज्यादा बसत खाताधारी है। जबकि सभी तरह के खाताधारियों की संख्या ढाई लाख है। इसी तरह ब्रांच डाकघरों में 10 से 15 हजार खाताधारी है। इन सभी डाकघरों में 28 जुलाई से ही काम बंद है। सिस्टम को पूरी तरह ऑन लाइन करने की वजह से नया सिस्टम लगाया गया है। इसका उद्घाटन भी हो गया है। लेकिन प्रधान डाकघर को छोड़कर अन्य किसी भी डाकघर में इस सेवा को चालू नहीं किया गया है। बताया जा रहा है कि इसके लिए ट्रेनिंग भी दी गई है। लेकिन कर्मियों का रोना है कि ट्रेनिंग ठीक से नहीं दी गई है। इसलिए सिस्टम चलाने में परेशानी हो रही है। जबतक सही ढंग से ट्रेनिंग नहीं दी जाएगी। तबतक इसी तरह परेशानी होती रहेगी।

15 हजार खाताधारी है रामराज्य मोड़ स्थित डाकघर में

रामराज्य मोड़ स्थित डाकघर में पड़ा है बंडलों में चिट्ठी पत्री

शहर के रामराज्य मोड़ स्थित डाकघर का जायजा 12.30 बजे लिया गया। वहां पर देखा गया कि डाकघर को मुख्य गेट खुला हुआ है। लेकिन इसमें कोई उपभोक्ता नहीं है। चिट्ठी पत्री से संबंधित कई बंडल बांधकर रखे हुए थे। यह बंडल आरएमएम से आया हुआ है। लेकिन सिस्टम काम नहीं करने की वजह से इसका वितरण नहीं हो रही है। यहां पर रजिस्ट्री भी नहीं हो रही थी। पोस्टमास्टर लालबाबू साह ने कहा कि बिना ट्रेनिंग के ही योजना लागू कर दी गई है। इस वजह से ऐसी समस्या उत्पन्न हुई है।

सवाल करने पर नाराज हो रहे डाक अधीक्षक | डाकघरों में कई दिनों से सेवा बंद होने से संबंधित सवाल करने पर डाक अधीक्षक नाराज हो गए। डाक अधीक्षक मो. जैनुद्दीन ने कहा कि सभी डाकघरों में कामकाज हो रहा है। लेकिन जब उन्हें कई डाकघरों के बारे में बताया गया कि वहां का जायजा लिया गया तो वहां पर काम नहीं हो रहा है। इस पर कहा कि नया सिस्टम लगा है। धीरे-धीरे काम होगा। अभी समय लगेगा

आंदर व हुसैनगंज में भी काम बंद

जिले के हुसैनगंज व आंदर डाकघर में भी कामकाज बंद है। सीवान आरएमएस से रोज डाक जाता है। लेकिन इसकी इंट्री नहीं हो रही है। कारण कि जबतक ऑन लाइन सिस्टम चलेगा नहीं, तबतक डाक को वितरण करना संभव नहीं है। आंदर डाकघर के पोस्टमास्टर ने कहा कि इस डाकघर में भी 10 हजार खाताधारी है। इसमें 2200 बचत खाता शामिल है। वे भी अपनी जमा राशि नहीं निकाल पा रहे है। आंदर डाकघर से भंवराजपुर, फरीदपुर, तियांय, जयजोर, गाघघाट, आमवारी, नदियांव शाखा उप डाकघर भी शामिल है।

13 हजार खाताधारी है कृष्णा सिनेमा कैम्पस स्थित डाकघर में

01 लाख से ज्यादा खाताधारी हैं सीवान प्रधान डाकघर में

नहीं थे उपभोक्ता और बैठे थे पोस्टमास्टर

शहर के कृष्णा कैम्पस स्थित डाकघर में दोपहर 12.44 बजे खुला हुआ था। उसमें जाने पर देखा गया कि एक भी उपभोक्ता नहीं थे। हालांकि पोस्टमास्टर राजेश कुमार वर्मा अपनी ड्यूटी पर मौजूद थे। उनका कहना था कि वे रोज अपनी ड्यूटी पर समय से आते हैं और शाम में घर जाते हैं। लेकिन नया सिस्टम काम नहीं कर रहा है। इस वजह से कोई भी कामकाज नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा कि 13 हजार खाताधारी हैं। इसमें 4 हजार आरडी एकाउंट है। जबकि अन्य बचत खाता है।

चैनपुर में हो रहा मैनुअल काम

जिले के चैनपुर डाकघर में अॉनलाइन सुविधा नहीं है। इस वजह से यहां पर मैनुअल काम हो रहा है। हालांकि यहां पर भी पांच दिनों तक काम बंद था। लेकिन अब काम हो रहा है। इसके अलावा महुअल महाल, हसनपुरा, बगौरा, गंगपुर सिसवन व गभीरार में भी मैनुअल काम हो रहा है। हालांकि यहां पर भी उपभोक्ताओं को आरडी एकाउंट पर अतिरिक्त चार्ज देना पड़ रहा है। इससे उपभोक्ताओं के बीच नाराजगी है। उपभोक्ताओं का कहना है कि विभाग की गलती की वजह से उसे अतिरिक्त चार्ज देना पड़ता है।

2.5 लाख सभी तरह के खाताधारी है प्रधान डाकघर में