• Hindi News
  • Bihar News
  • Siwan
  • महिलाओं की एक कॉल पर आरपीएफ की मिलेगी सहायता
--Advertisement--

महिलाओं की एक कॉल पर आरपीएफ की मिलेगी सहायता

महिलाओं के एक कॉल पर आरपीएफ सहायता के लिए मौजूद हो रही है। चाहे महिला सुरक्षा से संबंधित हो या महिला अधिकार से। अगर...

Dainik Bhaskar

Aug 05, 2018, 05:45 AM IST
महिलाओं की एक कॉल पर आरपीएफ की मिलेगी सहायता
महिलाओं के एक कॉल पर आरपीएफ सहायता के लिए मौजूद हो रही है। चाहे महिला सुरक्षा से संबंधित हो या महिला अधिकार से। अगर महिला स्टेशन व ट्रेन में किसी भी तरह से अपने अाप को असुरक्षित महसूस कर रही है तो वह आरपीएफ की टॉल फ्री नम्बर 182 पर कॉल कर सकती है। कॉल करने के साथ ही आरपीएफ तुरंत उसकी सहायता में उपलब्ध होगी। ऑल फ्री नम्बर 182 को सशक्त बनाने व उसके प्रचार प्रसार का भी काम आरपीएफ की टीम कर रही है। इसके लिए प्लेटफॉर्म पर महिला यात्रियों के बीच पर्चे बांटे जा रहे हैं। ट्रेनों में भी बताया जा रहा है कि महिलाएं अपने आप को पूरी तरह सुरक्षित होकर यात्रा करें। शनिवार को आरपीएफ सीवान के इंस्पेक्टर अजय कुमार सिंह, एसआई परमेश्वर कुमार, जवान महेश सिंह, धनंजय कुमार के नेतृत्व में जागरुकता अभियान चलाया गया।

इसमें बताया गया कि अगर कोई यात्री महिला कोच में सवार हो जाता है तो वे कॉल कर सकती है। साथ ही कोई छेड़खानी करता है या उसके सीट पर जबरन बैठने की कोशिश करता है तो वह कॉल करें।

महिलाओं की यात्रा हर हाल में सुरक्षित कराने का प्रयास

ट्रेन में महिला यात्रियों काे जागरूक करती आरपीएफ की महिला जवान।

अभियान 9 अगस्त तक चलाया जाएगा

कॉल करने के तुरंत बाद ही उसे सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। पिछले सप्ताह महिलाओं की शिकायत पर महिला कोच को खाली कराया गया था। इधर पूछताछ काउंटर से भी बार-बार जागरुकता से संबंधित उद्घोषणा कराई जा रही है। यह अभियान रेल मंत्रालय व प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त के आदेश पर चलाया जा रहा है। इंस्पेक्टर ने बताया कि यह अभियान 9 अगस्त तक चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर किसी भी महिला की शिकायत आती है तो उस कॉल पर प्लेटफॉर्म डयूटी पर मौजूद अफसर व जवान व ट्रेनों में स्कॉर्ट कर रहे जवानों को तत्काल कार्रवाई करने के लिए भेजा जाता है। साथ ही इसके लिए अगल से टीम भी गठित की गई है। इस तरह महिलाओं में जब जागरुकता आ जाएगा तो वह अकेली यात्रा करने में भी अपने आप को पूरी तरह सुरक्षित महसूस करेगी।

बनाया जाएगा वाट‌्सएप ग्रुप

सीवान स्टेशन पर वाट्सएप ग्रुप बनाया जाएगा। ताकि उस ग्रुप पर भी महिलाएं अपनी शिकायत कर सकेंगी। सीवान स्टेशन से जाे भी दैनिक महिला यात्री होंगी। उसे इस ग्रुप से जोड़ा जाएगा। इस ग्रुप से जोड़ने के बाद मॉनिटरिंग आरपीएफ की टीम करेगी। अगर ट्रेन में कोई असामाजिक तत्व महिलाओं को परेशान करेंगे तो महिलाएं उसकी तस्वीर लेकर ग्रुप पर डाल देंगी। उस चेहरे के आधार पर अारपीएफ की टीम असामाजिक तत्व को गिरफ्तार करेगी।

X
महिलाओं की एक कॉल पर आरपीएफ की मिलेगी सहायता
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..